बिलासपुर। ग्राम पंचायत बहतराई नगर निगम में शामिल तो हो गया लेकिन अभी भी जगह-जगह गंदगी पसरी रहती है। निगम प्रशासन सफाई की ओर ध्यान नहीं दे रहा है। इससे लोग मच्छरों के प्रकोप से परेशान हैं। घरों से निकलने वाला शौचालय का गंदा पानी बस्ती के बीच गड्ढों में फैलकर जमा हो रहा है। पानी की निकासी के लिए नाली नहीं है। इससे वार्ड में बीमारी फैलने की आशंका बनी रहती है। सफाई के लिए जनप्रतिनिधि ध्यान नहीं दे रहे हैं।

नगर निगम में शामिल बहतराई में सफाई के अभाव में चारों तरफ गंदगी का आलम है। लोग दुर्गंध से परेशान रहते हैं। मच्छरों के कारण लोगों को बीमारियों का खतरा बना हुआ है। लोगों की तबीयत खराब हो रही है। वार्डवासियों रमेश कुमार साहू का कहना है कि मोहल्ले की सफाई में ध्यान नहीं दिया जा रहा है। रोजाना सफाईकर्मी नहीं पहुंचते हैं। यहां नाली का निर्माण भी नहीं कराया गया है। यहां की आबादी सात हजार है। नाली निर्माण नहीं होने से गंदा पानी बाहर नहीं निकल पा रहा है। आसपास के लोग बदबू से परेशान रहते हैं। इससे लोगों के सेहत पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा है।

जब ग्राम पंचायत के समय में नाली और सड़क निर्माण के लिए राशि मिली थी। तत्कालीन जनप्रतिनिधियों की उदासीनता के कारण काम शुरू नहीं हो सका। इसका खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ रहा है। यहां आंगनबाड़ी केंद्र व सरकारी स्कूल भी संचालित हो रहा है। जिसमें रोजाना बच्चे पढ़ने आते हैं। वहां पानी निकासी की सुविधा भी ठीक से नहीं है। कभी कभार सफाईकर्मी आते हैं तो सिर्फ घूमकर वापस लौट जाते हैं। इसके अलावा वार्ड में सड़क संबंधी समस्या है। पंचायत के समय के बाद से रोड निर्माण नहीं किया गया है। पंचायत द्वारा उपलब्ध कराई गई सुविधा का उपयोग कर रहे हैं। निगम के पार्षद सफाई के लिए विशेष ध्यान नहीं देते हैं।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close