बिलासपुर।Fastag News: फास्टैग लगे वाहनों को टोल प्लाजा में बिना किसी रोकटोक के आवाजाही करने की सुविधा है। लेकिन, टोल कर्मियों की मनमानी व गुंडागर्दी के चलते वाहन चालकों की मुसीबत बढ़ गई है। कई बार तकनीकी खामी बताकर यहां फास्टैग लगे वाहनों से दोगुना शुल्क वसूल किया जा रहा है।

हिर्री क्षेत्र के भोजपुरी टोल प्लाजा में वाहनों की आवाजाही के लिए 16 लेन बनी हंै, जिसमें एनएचआइ ने दो लेन को छोड़कर सभी सेंसर लगाने के निर्देश दिए गए हैं। ताकि वाहनों में लगे फास्टैग डिवाइस को सेंसर के जरिए स्केन किया जा सके। एनएचआइ के प्रविधान के अनुसार सिर्फ दो लेन नकद शुल्क जमा करने वाले वाहन चालकों के लिए है। शेष किसी भी लेन में फास्टैग लगे वाहनों को गुजरने की छूट है।

लेकिन, टोल प्लाजा के सभी लेन में अब तक सेंसर नहीं लग पाया है। वहीं, जिस लेन में सेंसर लगे हैं, उनमें तकनीकी खामियां है, जिसे पहले दिन से दूर करने की कोशिश करने का दावा किया जा रहा है। लेकिन, खामियों को अब तक दूर नहीं किया जा सका है। इसके चलते वाहनों की आवाजाही के लिए मात्र चार लेन की व्यवस्था की गई है।

वहीं, तकनीकी खामी व सर्वर डाउन होने का बहाना बनाकर फास्टैग लगे वाहनों से भी दोगुना शुल्क लिया जा रहा है। विरोध करने पर टोल कर्मी मनमानी व गुंडागर्दी करने लगते हैं। इसके चलते चुपचाप रहकर लोग उलझना नहीं चाहते। टोल कर्मियों ने बताया कि साफ्टवेयर अपडेट नहीं होने के कारण यह व्यवस्था बनाई गई है।

उनका कहना है कि अभी वाहनों की ज्यादा भीड़ नहीं है। इसके चलते फास्टैग लगे वाहनों को दिक्कत नहीं हो रही है। जबकि मैनेजर धरमपाल का कहना है कि इस तरह की कोई खामियां नहीं है। फास्टैग लगे वाहनों से दोगुना शुल्क नहीं लिया जा रहा है।

Posted By: anil.kurrey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags