बिलासपुर।Fight Against Coronavirus: वैसे तो मंदिर में दान करने की परंपरा रही है, लेकिन इस बार कुछ अलग ही देखने को मिला है। नवरात्र के पर्व के दौरान कोरोना का खतरा मंडरा रहा है और इस वजह से भक्तों को मंदिरों तक आने की मनाही है। ऐसे में देवी माता अपने सूक्ष्म स्वरूप में स्वयं अपने भक्तों के पास पहुंच रही हैं। घरों में आस्था की जोत भी जल रही है। आपदा की इस घड़ी में मां महामाया की ओर राहत की भेंट अपने भक्तों को दी गई है। महामाया मंदिर ट्रस्ट की ओर से कोरोना वायरस से निपटने के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष में पांच लाख 11 हजार स्र्पये दान किए गए हैं। वहीं रेडक्रास सोसायटी को भी एक लाख 11 हजार का सहयोग किया गया है। इसके लिए ट्रस्ट की ओर से चेक कलेक्टर को सौंपा गया।

ट्रस्ट के मैनेजिंग ट्रस्टी सुनील सोंथालिया ने बताया कि बीते दिनों प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोरोना से निपटने आर्थिक सहयोग की अपील की थी। इस पर ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री सहायता कोष में पांच लाख 11 हजार की राशि देने का निर्णय लिया। इसी तरह रेडक्रास सोसायटी को भी एक लाख 11 हजार की राशि देने पर सहमति बनी। इसके बाद ट्रस्ट के अध्यक्ष की ओर से सहायता राशि का चेक कलेक्टर को सौंपा गया।

कोरोनावायरस संक्रमण की वजह से देशभर में लॉक डाउन है। लोगों का काम-धाम ठप पड़ा हुआ है। ऐसे में कई लोगों को जीवन की दुर्गम परिस्थितियों से भी जूझना पड़ रहा है। लोगों की सहायता के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में राशि देने के लिए सक्षम लोगों से लगातार अपील की जा रही है। राज्य के कई मंत्रियों, विधायकों, सांसदों और अन्य नेताओं सहित सरकारी अधिकारियों-कर्मचारियों और व्यासायियों द्वारा स्वस्फूर्त होकर इस सहायता कोष में राशि जमा की जा रही है।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket