बिलासपुर। रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी की सूचना पर तोरवा पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपित युवकों के कब्जे से एक रेमडेसिविर का एंपुल और 53 हजार रुपये नकद जब्त किया है। पकड़े गए दोनों युवक निजी अस्पताल में काम करते हैं। पुलिस अस्पताल प्रबंधन से इस संबंध में जानकारी ले रही है। वहीं औषधि प्रशासन विभाग और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को इसकी जानकारी दी गई है।

तोरवा थाना प्रभारी परिवेश तिवारी ने बताया कि रविवार की दोपहर सूचना मिली कि कुछ लोग कोरोना संक्रमित मरीज के उपचार में काम आने वाली दवा रेमडेसिविर की कालाबाजारी की जा रही है। इस पर पुलिस ने मुखबिर को खरीदार बनाकर दवा की कालाबाजारी करने वालों से संपर्क करने कहा। शनिवार को महिमा नगर सिरगिट्टी में रहने वाले दिलीप कुमार सन्नाट(34 वर्ष) व द्वारिका सिंह(24 वर्ष) खम्हरिया थाना सीपत से संपर्क किया। युवकों ने पुलिस के मुखबिर को बंगाली चौक के पास बुलाया। इस दौरान युवकों ने दवा के लिए 18 हजार रुपये में सौदा तय किया। इसके बाद युवकों ने पुलिस के मुखबिर को अग्रसेन चौक के पास दवा के लिए बुलाया। इसके बाद युवकों ने फोन कर मुखबिर से मरीज के संबंध में जानकारी ली।

इस पर थाना प्रभारी के निर्देश पर मुखबिर ने मरीज के स्वास्तिक अस्पताल में भर्ती होने की जानकारी दी। रविवार की शाम युवकों ने मुखबिर को दवा के लिए अग्रसेन चौक स्थित स्टार हास्पिटल के बाहर बुलाया। युवक दवा लेकर मुखबिर के पास पहुंचा। इसी दौरान पुलिस ने दोनों युवकों को हिरासत में ले लिया। पुलिस ने आरोपित युवकों के कब्जे से एक एंपुल रेमडेसिविर इंजेक्शन का एंपुल जब्त कर लिया है। पूछताछ के दौरान पता चला कि युवकों ने चार एंपुल दवा 18 हजार की दर से बेच दी है। इस पर पुलिस ने युवकों के कब्जे से 53 हजार नकद, दो मोबाइल और मोटरसाइकिल जब्त किया है। पुलिस मामले में आरोपित युवकों से पूछताछ कर रही है। वहीं मामले की जानकारी औषधि प्रशासन विभाग और स्वास्थ्य विभाग को दी गई है।

निजी अस्पताल से चोरी कर लाए दवा

पूछताछ के दौरान पता चला कि युवकों ने दवा किसी निजी अस्पताल से चोरी की है। सीपत के खम्हरिया में रहने वाला द्वारिका सिंह कुछ दिन ही पहले अग्रसेन चौक स्थित स्टार हास्पिटल में काम करने आया है। युवक ने पूछताछ में बताया कि उसने दवा किसी दूसरे अस्पताल से चुराई थी। पुलिस इस संबंध में जांच कर रही है।

जांच के बाद मामला होगा स्पष्ट

तोरवा थाना प्रभारी परिवेश तिवारी ने बताया कि आरोपित युवक दवा चोरी करना बता रहे हैं। युवकों के बयान की तस्दीक की जा रही है। दवा के बैच नंबर के आधार पर जांच की जा रही है। इसकी सूचना औषधि प्रशासन विभाग को भी दी गई है। जांच के बाद पूरा मामला स्पष्ट होगा। फिलहाल युवकों से पूछताछ की जा रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags