बिलासपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत वितरण कंपनी मर्यादित बिलासपुर क्षेत्र के कार्यपालक निदेशक संजय पटेल ने सोमवार को सरकंडा जोन का औचक निरीक्षण किया। इससे अधिकारियों में हड़कंप की स्थिति रही। इस दौरान बकाया वसूली को जानकारी ली। साथ ही अधिकारियों को निर्देश दिए की अस्पताल व हास्टल छोड़कर बकायादारों पर कनेक्शन काटने की कार्रवाई करें। चाहे वह शासकीय विभाग ही क्यों न हो।

कार्यपालक निदेशक पटेल उपभोक्ताओं को बेहतर सुविधाएं देने पर जोर दे रहे हैं। यही वजह है कि वे लगातार सब स्टेशन से मंडल व जोन कार्यालय जाकर खुद व्यवस्थाओं का जायजा ले रहे हैं। इस दौरान उन्हें जरा भी खामियां मिलती हैं तो तत्काल सुधार करने के निर्देश भी अधिकारियों को दे रहे हैं। इसी कड़ी में उन्होंने सरकंडा जोन पहुंचकर जांच की।

इस दौरान पावर रीडिंग डायरी, अस्थाई कनेक्शन की जानकारी ली। इसके अलावा बकाया राशि वसूली के संबंध में अधिकारियों से जवाब तलब किया। इस बीच उन्होंने वसूली को लेकर विशेष निर्देश दिए। उनका कहना था कि बकायादारों से वसूली तभी होगी, जब लाइन काटने की कार्रवाई की जाएगी। इसलिए इस तरह की कार्रवाई से पीछे न हटें।

साथ ही उन्होंने तय समय में स्थायी- अस्थायी कनेक्शन प्रदान देने और समय पूूरा होने वाले अस्थायी कनेक्शन को विच्छेदित करने के लिए निर्देशित किया। निरीक्षण के दौरान उन्हें एक समस्या सभी जगह सामान्य नजर आ रही है। पुराने मीटर एवं ट्रांसफार्मर पड़े हुए हैं। उन्होंने इन्हें भंडार गृह में वापस करने के लिए कहा। निरीक्षण के दौरान अधीक्षण यंत्री (नगर वृत्त) वाईके मनहर, कनिष्ठ यंत्री यामिनी सिंह ठाकुर एवं इंजीयर देव सिंह कंवर के अलावा अन्य कर्मचारी उपस्थित थे।

घर के अंदर लगे मीटर बाहर करने का आदेश

निरीक्षण के दौरान उन्होंने उपभोक्ताओं के घर के अंदर या परिसर में लगे मीटर को तत्काल बाहर लगाने के लिए कहा। इससे रीडिंग में बेवजह की परेशानी नहीं होगी। इसके अलावा असामान्य ऊंचाई पर लगे मीटर को व्यवस्थित करने के निर्देश भी दिए। कार्यालय भवन में कार्यालय का नाम और परिसर में पर्याप्त प्रकाश व्यवस्था के लिए उन्होंने कहा।

Posted By: anil.kurrey

NaiDunia Local
NaiDunia Local