बिलासपुर। मंडल संरक्षा विभाग द्वारा संरक्षा कोटि के कर्मचारियों में सजगता एवं संरक्षा के साथ कार्य करने के प्रति जागरूकता लाने पेंड्रारोड़ रेलवे स्टेशन में संरक्षा संगोष्ठी का आयोजन किया गया। वरिष्ठ मंडल संरक्षा अधिकारी अनुराग कुमार सिंह, सहायक मंडल अभियंता अंकुश अग्रवाल एवं संरक्षा सलाहकारों की उपस्थिति में आयोजित इस संगोष्ठी में स्टेशन मास्टर, चालक, परिचालक गार्ड, फिटर, एसएसई, जेई, डीटीआई, पाइंटमैन, गेटमैन, सहित सभी विभागों के लगभग 100 रेल कर्मचारी शामिल हैं।

संगोष्ठी के दौरान वर्षाकालीन सावधानियां, सिग्नल एवं पाइंट्स खराब होने पर स्टेशन मास्टर के कर्तव्य, शंटिंग के दौरान तथा पाइंट इन/आउट के समय पाइंट को क्लैंप एवं पैडलाक करना, ट्रेन स्टाफ एवं ट्रेन पासिंग स्टाफ के मध्य सिग्नल का आदान - प्रदान करना, प्वाइंट पर शंटिंग के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में बताया गया।

इसके साथ ही गेटमेन का कर्तव्य, रेल फ्रेक्चर की स्थिति में ट्रेक की सुरक्षा, सिग्नल की खराबी एवं रखरखाव के समय बरतने वाली सावधानियों, लोडिंग अनलोडिंग पाइंट्स पर वैगन के दरवाजों का सही ढंग से बंद होना सुनिश्चित करना, ब्लाक सेक्शन में गाड़ी के स्टाल होने पर ड्राइवर का कर्तव्य, नान-सिग्नलिंग में गाड़ी चलाने के दौरान चालक एवं सहायक चालकों का कर्तव्य, ओएचई का रखरखाव, आपदा प्रबंधन के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई।

साईडिंग में सड़क वाहन की अनाधिकृत गतिविधियों को रोकने और तोड़ फोड़ एंव घुसपैठ करने पर उचित कार्रवाई करना महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा हुई। दुर्घटनाओं की पुनरावृत्ति को रोकने के लिए पूर्व की दुर्घटनाओं के कारणों को एनिमेशन के माध्यम से प्रदर्शित कर कर्मचारियों का मार्गदर्शन भी किया गया। साथ ही संरक्षा संबंधी अतन जानकारी प्रसारित करने प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता आयोजित की गई।

साथ ही विजेताओं को पुरस्कृत किया गया। इस मौके पर वरिष्ठ मंडल संरक्षा अधिकारी ने कहा कि संरक्षा सर्वोपरी है। कार्य के दौरान कभी भी शार्टकट विधि न अपनाएं। साथ ही संरक्षा नियमों की पूरी जानकारी अतन रखें तथा संरक्षा नियमों का पालन करते हुए अपने कार्यों का निष्पादन सर्तकता एवं सजगता करने का सुझाव भी दिया गया।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close