बिलासपुर। Guru Ghasidas Kendriya Vidyalaya News: गुरु घासीदास केंद्रीय विश्वविद्यालय के नए कुलपति प्रो.आलोक चक्रवाल कुर्सी संभालते ही काम में जुट गए हैं। गुणवत्ता पर ध्यान आकर्षित करते हुए मंगलवार को अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। नई शिक्षा नीति और नैक ग्रेडिंग पर विस्तार से चर्चा करते हुए अधिकारियों को जरूरी दिशा निर्देश भी दिया। आतंरिक गुणवत्ता आश्वासन प्रकोष्ठ की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए कुलपति प्रो. आलोक ने प्रकोष्ठ के सदस्यों से बारी-बारी जानकारी ली। निदेशक प्रो. अभय एस रणदिवे ने विवरण प्रस्तुत किया।

हालांकि उनके प्रस्तुतीकरण से कुलपति नाखुश नजर आए। इसके बाद उन्होंने सदस्य नैक स्टेरिंग कमेटी, समस्त विद्यापीठों के अधिष्ठाता, विद्यापीठों के समन्वयक और विभिन्न् सेल के नोडल अधिकारियों से रायशुमारी करते हुए सुझाव भी दिया। बैठक में उन्होंने दो टूक कहा कि राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद (नैक) निरीक्षण को लेकर कोई समझौता नहीं किया जाएगा। सत्र 2019-20 की वस्तुस्थिति के बारे में जानकारी भी मांगी। बैठक के दौरान वे सभी चीजों को बारिकी से समझते रहे। पिछले कार्यकाल के दौरान नैक निरीक्षण को लेकर हुए काम से असंतुष्ट दिखे।

अच्छी ग्रेडिंग पाने हमारे पास पूरी क्षमता

प्रो. आलोक ने समीक्षा बैठक के दौरान यह स्पष्ट किया कि नैक में अच्छी ग्रेडिंग हासिल करने हमारे पास पूरी क्षमता है। बशर्तें बेहतर प्रस्तुतीकरण की आवश्यकता है। अब तक जो भी खामियां और कमजोरियां सामने आई हैं उन्हें दूर करने की आवश्यकता है। कुलसचिव प्रो.शैलेंद्र कुमार को इस पूरी प्रक्रिया में सुधार करने कहा गया।

डा.विंदेश्वरी को बपाया बटालियन का केयर टेकर

केंद्रीय विश्वविद्यालय को 7वीं छत्तीसगढ़ एनसीसी बटालियन से प्राप्त पत्र के अनुक्रम में विश्वविद्यालय में संचालित एनसीसी बटालियन की महिला एनसीसी छात्रों के सफल संचालन व समस्याओं का निदान करने केयर टेकर नियुक्त किया गया है। शिक्षा विभाग की सहायक प्राध्यापक डा.विंदेश्वरी पवार को इसका केयर टेकर नियुक्त किया गया है। बता दें कि इसमें 40 कैडेट हैं।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local