बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

शहर में हेल्थ सर्विस को बेहतर कैसे किया जा सकता है इस पर सलाह के लिए सात मल्टीनेशनल कंपनियों ने अपने प्रस्ताव रखे हैं। इसमें मुख्य रूप से हेल्थ एटीएम, अलग एप, टेली मेडीसीन जैसे सुझाव सामने आए हैं। आइएमए और शहर के प्रमुख डॉक्टरों से भी इस दौरान परेशानियों की जानकारी ली गई। अब स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करने प्रोजेक्ट लेकर आने वाला है।

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करने का प्रस्ताव भी शामिल है। इसे देखते हुए देश के सात प्रमुख साल्यूशन प्रोवाइडर या वेंडर को आमंत्रित किया गया था। जिन्हें स्वास्थ्य क्षेत्र में आ रही परेशानी का समाधान बताने के लिए कहा गया था। इन कंपनियों के अलावा शहर के प्रमुख डॉक्टरों को आमंत्रित किया गया था। सबसे पहले डाक्टरों से जाना गया कि यहां स्वास्थ्य के क्षेत्र में दिक्कत क्या है। इस पर मुख्य रूप बताया गया कि बीमारी की शुरुआत के समय लोग इलाज के लिए नहीं आते। गंभीर स्थिति होने पर अस्पताल आते हैं। जागरूकता की कमी जैसे मामले उन्होंने बताए। उनके द्वारा बताई गई समस्या के आधार पर फिर आधुनिक सुविधाओं की जानकारी दी गई। जिससे डाक्टरों पर भी बोझ कम होगा और लोगों को भी सस्ता इलाज मिल जाएगा। अब स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अधिकारी तय करेंगे कि यहां कौन सी स्कीम लागू की जाए। इस काम में अब फिर डाक्टरों से सलाह लेकर किसी आधुनिक तकनीक को अपनाया जाएगा। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत जल्द ही कोई हेल्थ स्कीम लागू होने की बात कही जा रही है।

स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में हेल्थ सेक्टर को बेहतर बनाने कार्ययोजना तैयार की जा रही है। इस कार्यशाला में कई चीजें सामने आई हैं जिसे शहर में लागू कर सकते हैं। इससे लोगों को भी सुविधा होगी और डॉक्टरों को भी। जल्द शहर को आधुनिक चिकित्सा स्कीम देखने को मिलेगी।

प्रभाकर पांडेय

आयुक्त और एमडी स्मार्ट सिटी लिमिटेड

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket