बिलासपुर। High Court News: हाईवे के लिए जमीन लेकर मुआवजा नहीं देने पर किसान ने याचिका दायर कर 70 फीसद राशि दिए जाने की मांग की है ताकि इसी 18 अप्रैल को उसकी बेटियों की शादी हो सके। बिल्हा भोजपुरी निवासी दिलीप कुमार कोसले ने अधिवक्ता लवकुश साहू के माध्यम से हाईकोर्ट में याचिका दायर की है।

इसमें बताया कि भोजपुरी टोल प्लाजा के पास हाईवे पर जहां पुल बना है वहां पहले उनकी जमीन थी। भोजपुरी मोड पर पक्का मकान, पांच दुकान के साथ ही 10 डिसमिल जमीन पर वे रह रहे थे। उनसे एनएच-130 के लिए हुए 2011 में सर्वे के आधार पर पहले सामने की जमीन अधिग्रहित की गई। इसमें उनकी दुकान को तोड़ दिया गया।

इसके बदले में 2016-17 में मुआवजा दिया गया। बाद में जब हाईवे का निर्माण शुरू हुआ तो चौड़ीकरण के लिए 2016-17 में उनसे फिर जमीन लेकर अवार्ड की राशि नहीं दी गई। मुआवजा नहीं मिलने पर किसान लगातार अधिकारियों को आवेदन दे देकर परेशान हो चुके हंै। इसके लिए पूर्व में उसने हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी।

इस पर हाई कोर्ट ने 90 दिनों के भीतर मुआवजा प्रकरण का निराकरण करने का आदेश दिया था। इस मामले में किसान के अभ्यावेदन पर भू अर्जन अधिकारी ने आदेश पारित कर एनएचएआइ को तत्काल मुआवजा राजस्व विभाग में जमा करने का आदेश दिया था।

इसके बाद भी एनएचएआइ ने आदेश का पालन नहीं किया और न ही किसान को मुआवजा दिया। इस पर याचिकाकर्ता ने दोबारा हाई कोर्ट में याचिका दायर की। इसमें बताया है कि उसके घर उसकी लड़की नीलम व पूनम की 18 अप्रैल को शादी है। मुआवजे के रूप में 7.24 लाख रुपये मिलने हैं।

साथ ही सुनवाई के दौरान एक अंतरिम आवेदन प्रस्तुत कर मांग की कि मुआवजे की 70 फीसद राशि दिलाई जाए जिससे वे अपनी लड़कियों की शादी कर सके। मामले की त्वरित सुनवाई करने की मांग भी की गई है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags