बिलासपुर । नईदुनिया प्रतिनिधि

राज्य शासन ने माना है कि देशभर में हाथ से मैला उठाने वाले सफाई कर्मचारियों के मामले में वर्ष 2013 में बनाए गए कानून का राज्य में सही ढंग से पालन नहीं हो पाया है। शासन की ओर से पैरवी करते हुए सरकारी वकील ने सफाई कामगारों के पुनर्वास और उत्थान के लिए बनाए गए नियमों व मापदंडों का वृहद स्तर पर सर्वे करने की मोहलत मांगी है। डिवीजन बेंच ने इसके लिए छह सप्ताह की मोहलत दी है।

जन्मेजय सेना ने जनहित याचिका दायर कर हाथ से मैला उठाने वाले सफाई कामगारों के उत्थान और पुनर्वास की मांग को लेकर हाईकोर्ट से मांग की थी। याचिका में इस तरह की प्रथा को समाप्त करने की मांग भी की गई है। शुक्रवार को इस मामले की सुनवाई डिवीजन बेंच में हुई । सुनवाई के दौरान शासन ने अपनी भूल स्वीकार करते हुए कहा कि पांच वर्ष इस संबंध में प्रभावी दिशा निर्देश जारी किए गए थे। निर्देशों का उचित ढंग से क्रियान्वयन के अलावा कड़ाई से पालन न किए जाने के कारण इस तरह की स्थिति निर्मित हुई है। राज्य शासन की ओर से पैरवी करते हुए सरकारी वकील ने यह भी माना कि इसमें सही ढंग से सर्वे नहीं हुआ है। लिहाजा इस पूरे मामले में नए सिरे से और विस्तृत सर्वे की जरूरत बताते हुए डिवीजन बेंच से समय की मांग की है। मामले की गंभीरता को देखते हुए डिवीजन बेंच ने राज्य शासन को छह सप्ताह का समय दिया है। इसके बाद अगली सुनवाई की तिथि भी तय कर दी है। जन्मेजय सेना ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की है। जिसमें कहा गया है कि छत्तीसगढ़ सरकार ने वर्ष 2013 में हाथों से मैला उठाने वाले सफाई कर्मचारियों के लिए पुनर्वास और उत्थान के लिए कई प्रावधान किए हैं,लेकिन कानून का सही ढंग से पालन नहीं किया जा रहा है। याचिका में कहा है कि छत्तीसगढ़ के कई जिलों में आज भी कर्मचारी हाथ से मैला उठाने पर मजबूर हैं। कर्मचारी गटर में घुसकर काम कर रहे हैं। कई गटर से विषैले गैसों से उनके दम घुटने से मौत भी हो जाती है। सफाई कामगारों को अपने अधिकारों की जानकारी नहीं होने के कारण सुरक्षा के मापदंडों और जरूरी उपकरणों से वंचित होना पड़ता है। ऐसे में आए दिन मैला उठाने वाले सफाई कर्मचारियों की मौत का मामला सामने आते रहा है।

फोटोग्रॉफ्स भी पेश

याचिकाकर्ता ने जनहित याचिका के साथ गटर से सफाई करते कामगारों का फोटोग्रॉफ्स भी पेश किया है। इसमें यह बताया गया है कि बिना सुरक्षा उपकरण के कामगार हाथों से मैला उठा रहे हैं और गटर की सफाई कर रहे हैं।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local