बिलासपुर। होटल में कूलर लगवाने का झांसा देकर धोखाधड़ी के मामले में पीड़ित एक साल तक अपनी शिकायत लेकर घूमता रहा। बीते दिनों लंबित मामलों की समीक्षा के दौरान एसपी की फटकार के बाद सिविल लाइन पुलिस ने मामले में जुर्म दर्ज कर इसकी जांच शुरू की है।

मंगला चौक में रहने वाले संजय जैन महावीर पैराडाइज होटल के संचालक हैं। एक साल पहले सितंबर 2020 में उनके होटल में नवी मुंबई के पनवेल में रहने वाला राजेश शर्मा 20 दिनों तक स्र्का था। उसने खुद को रेनबो इंजीनियरिंग कंपनी का मालिक बताया। युवक ने बताया शहर के आसपास के क्षेत्र में उसका काम चलता है। उस समय संजय अपने होटल में कूलर लगवाने के लिए एक कंपनी के अधिकारियों के संपर्क में थे।

इसकी जानकारी होने पर राजेश ने कंपनी के कूलर को कम दाम में लगवा देने का झांसा दिया। उसने तीन कूलर को दो लाख 54 हजार में लगवाने की बात कही। होटल संचालक ने कूलर को मंगवाने के लिए 30 हजार स्र्पये का चेक दे दिया। काफी समय बाद भी कूलर नहीं लगने पर संचालक ने अपने स्र्पये वापस मांगे। इस पर राजेश ने 30 हजार स्र्पये का चेक दिया।

चेक बाउंस होने पर होटल संचालक ने दिसंबर 2020 में मामले की शिकायत सिविल लाइन थाने में की। इसके बाद उन्होंने मार्च महीने में लिखित शिकायत की। बीते दिनों एसपी ने लंबित शिकायतों को लेकर समीक्षा बैठक ली। इसमें उन्होंने पुराने मामलों में जुर्म दर्ज कर आरोपित को पकड़ने का निर्देश दिया। एसपी की फटकार के बाद पुलिस ने मामले में जुर्म दर्ज कर जांच में लिया है।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local