बिलासपुर। गुस्र्वार की रात कार सवार युवकों ने खुद को खनिज विभाग का फील्ड अफसर बताते हुए तुर्काडीह और लोखंडी के बीच तीन ट्रक के ड्राइवरों को रोककर कोयले मिलावट का आरोप लगाकर 60 हजार स्र्पये लूट लिए। साथ ही अपना मोबाइल नंबर देकर ट्रांसपोर्टर से बात कराने कहा। ड्राइवरों ने इसकी जानकारी अपने मालिकों को दी। इस पर मालिकों ने स्र्पये देने के बहाने लुटेरों को बुलाया। यहां ट्रांसपोर्टर के साथ अन्य लोगों को देखकर लुटेरे भागते हुए कोनी थाने पहुंचे। थाना परिसर में कार छोड़कर लुटेरे पीछे से भाग निकले। ट्रांसपोर्टरों ने इसकी जानकारी कोनी थाने में दी। इस पर पुलिस मामले की जांच कर रही है। कार पूर्व नगर सैनिक के नाम पर निकली है। इसकी जांच की जा रही है।

गुस्र्वार की रात तीन ट्रक ड्राइवर कोयला लेकर कोरबा से लोखंडी आ रहे थे। तुर्काडीह पुल क्रास करने के बाद उनकी ट्रक को कार सवार युवकों ने रोक लिया। उन्होंने खुद को माइनिंग विभाग का फील्ड आफिसर बताया। इसके बाद उन्होंने ट्रक ड्राइवरों पर कोयले में मिलावट का आरोप लगाते हुए मारपीट की। उनके ड्राइविंग लाइसेंस और स्र्पये छीन लिए। युवकों ने एक के बाद एक तीन ट्रक के ड्राइवरों से लूट की। इसके बाद उन्होंने ड्राइवरों को एक मोबाइल नंबर देकर ट्रांसपोर्टर से बात कराने कहा। ड्राइवरों ने इसकी जानकारी अपने मालिकों को दी।

इस पर ट्रांसपोर्टरों ने पूरे मामले की सेटिंग के लिए दो लाख स्र्पये देने की बात कहते हुए लुटेरों को तुर्काडीह पुल के पास बुलाया। शुक्रवार की दोपहर लुटेरे वहां रकम लेने के लिए पहुंचे। वहां पर ट्रांसपोर्टरों के साथ अन्य लोग भी मौजूद थे। भीड़ देखकर लुटेरे कोनी की ओर भागने लगे। उनके पीछे ट्रांसपोर्टर के साथी भी गए। लुटेरों ने अपनी कार कोनी थाने में घुसा दी। इसके बाद थाना परिसर में कार खड़ी कर पीछे की ओर से भाग निकले। ट्रांसपोर्टर ने इसकी जानकारी कोनी थाने में दी। इस पर कोनी पुलिस ने कार के नंबर की जांच की। कार एक पूर्व नगर सैनिक के नाम पर निकली। इसके आधार पर पुलिस आरोपित की तलाश कर रही है। फिलहाल ट्रांसपोर्टरों ने इसकी शिकायत थाने में नहीं की है।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close