बिलासपुर। Korba News: कोयला मजदूरों का प्रतिनिधित्व कर रही श्रमिक संघ सीटू ने अब जनहित के मुद्दे को लेकर आंदोलन करने का निर्णय लिया है। बंद ट्रेन सुविधा को चालू कराने, छत्तीसगढ़ व शिवनाथ एक्सप्रेस रैक को कोरबा तक वापस आने की मांग लेकर संगठन चरणबद्ध आंदोलन करेगा। संगठन पदाधिकारियों का कहना है कि सभी क्षेत्र में ट्रेन चालू हो रही हैं, पर कोरबा रेलखंड के ट्रेनों का परिचालन शुरू नहीं किया जा रहा है।

लाकडाउन के दौरान कोरबा समेत पूरे देश में ट्रेन का परिचालन बंद कर दिया गया था। स्थिति सामान्य होेने पर धीरे- धीरे ट्रेन शुरू हो रही हैं, पर कोरबा रेलखंड में केवल दो ट्रेन चलाने की मंजूरी रेल प्रबंधन ने दी है। एक माह के लिए हसदेव एक्सप्रेस चलाकर बंद कर दिया गया। शिवनाथ एक्सप्रेस का परिचालन भी बंद रखा है। इससे यात्रियों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है। मार्क्सवादी कम्यूनिष्ट पार्टी (माकपा) सीटू ने जनहित में ट्रेन का परिचालन शुरू करने समेत अन्य मुद्दों को लेकर आंदोलन करने की तैयारी में जुट गया है।

संगठन के जिला सचिव वीएम मनोेहर ने कलेक्टर, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के महाप्रबंधक व डिवीजनल रेल प्रबंधक (डीआरएम) को पत्र लिख कर कहा है कि लाकडाउन अवधि में गेवरारोड़ स्टेशन से बंद कई गई सभी ट्रेन का परिचालन अब तक शुरू नहीं हो सका है। रेल समस्या को लेकर संगठन अपनी मांग बार- बार रख रहे हैं, पर ट्रेन शुरू करने रेल प्रबंधन कोई पहल नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा कि सड़क की स्थिति अत्यंत खराब होने के कारण आवागमन करना मुश्किल हो गया है।

रायपुर, बिलासपुर समेत अन्य शहर आने- जाने के लिए एकमात्र रेल सुविधा ही कोरबा, बाल्को, एनटीपीसी, बांकीमोंगरा, कुसमुंडा, गेवरा, दीपका व आसपास अन्य क्षेत्र में निवासरत लोगों के लिए साधन है, पर यह भी बंद होने से मध्यम व निचले क्रम के लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है। उन्होंने कहा कि गेवरा रोड़ रेलवे स्टेशन सबसे ज्यादा राजस्व दे रहा है, उसकी बाद भी यात्री सुविधा के नाम पर लगातार उपेक्षित किया जा रहा है। इससे क्षेत्र की जनता अपने आपको छला हुआ महसूस कर रही है। उन्होंने कहा कि क्षेत्रवासियों की सुविधा के लिए बंद सभी टे्रनों का परिचालन शुरू कराया जाना चाहिए, अन्यथा माकपा चरणबद्ध आंदोलन के लिए बाध्य होगा।

प्रमुख मांग

छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस को नियमित रूप से गेवरा रोड स्टेशन से शुरू करने

गेवरारोड़ स्टेशन से रायपुर तक अप-डाउन ट्रेन-यात्री सुविधा पुन: शुरू करने

नवंबर 2019 में आठ सूत्रीय मांग को लेकर हुई चर्चा व सहमति के बाद भी अभी तक कोई क्रियान्वयन नहीं हुआ, इस पर तत्काल कार्रवाई शुरू किया जाए।

16 को पुतला दहन

माकपा ने रेल प्रबंधन के खिलाफ सड़क की लड़ाई लड़ने की योजना तैयार की है। पहले चरण में 16 से 19 जनवरी जिले में जगह- जगह पुतला दहन किया जाएगा। इसके बाद दूसरे चरण में गेवरारोड़ स्टेशन में मालवाहक रेल चक्काजाम तीन फरवरी को किया जाएगा। जिला सचिव ने कहा कि कोरबावासियों को हो रही परेशानियों को ध्यान में रखते हुए जल्द कार्रवाई की जाए, ताकि क्षेत्र की जनता को आंदोलन का रास्ता अख्तियार ना करना पड़े।

Posted By: sandeep.yadav

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस