बिलासपुर। सिम्स में एक गर्भवती महिला और उसकी बहन ने एक इंटर्न महिला डाक्टर की पिटाई कर दी। डाक्टर पर आरोप यह लगाया गया कि लगातार आठ महीने से उपचार के बाद भी किसी भी तरह से फायदा नहीं हुआ। साथ ही कई बार सोनोग्राफी जांच लिखने के बाद एक बार भी सिम्स में सोनोग्राफी जांच नहीं कराई गई। इस मामले में महिला डाक्टर ने पुलिस से शिकायत की है।

जानकारी के मुताबिक तिफरा निवासी 20 वर्षीय प्रीति टंडन गर्भवती है। उसके गर्भ में आठ माह का बच्चा है। महिला गुरुवार की सुबह सोनोग्राफी व अन्य जांच कराने के लिए अपनी बहन अंजू टंडन के साथ सिम्स पहुंचीं। वहां गायनिक डिपार्टमेंट में इंटर्न डाक्टर निशा पैकरा से सोनोग्राफी कराने की बात कही और यह भी कहा कि दवाओं का कुछ भी असर नहीं हो रहा है।

तब डाक्टर ने बताया कि आज भी सोनोग्राफी नहीं हो सकेगी। ऐसे में दोनों बहन भड़क उठी और प्रीति टंडन ने आरोप लगाया कि जब से गर्भ धारण हुआ है तब से सिम्स में उपचार करा रही हूं।

एक भी बार इलाज सही ढंग से नहीं किया गया है। यहां तक कि कई बार सोनोग्राफी लिखा गया है, लेकिन एक बार भी सोनोग्राफी नहीं की गई। ऐसे में डाक्टर का दोनों बहन से विवाद होने लगा। इसी दौरान अचानक प्रीति की बहन अंजू ने डाक्टर पर हमला बोल दिया और हाथ मोड़कर डाक्टर को तमाचा जड़ दिया।

इसके बाद डिपार्टमेंट में हंगामा होने लगा। मामला बढ़ने के बाद दोनों बहन सिम्स से चली गईं। इसके बाद महिला डाक्टर ने इसकी शिकायत सिम्स प्रबंधन से करने के साथ ही इस घटना की सूचना पुलिस को दी है।

सिम्स प्रबंधन ने साधी चुप्पी

इस मामले में सिम्स प्रबंधन ने चुप्पी साध ली है। कोई भी अधिकारी कुछ नहीं बोल रहा है। इधर डाक्टर की शिकायत के बाद पुलिस ने घटना का सीसीटीवी फुटेज मांगा है। फुटेज के आधार पर आगे की कार्यवाही की जाएगी।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local