बिलासपुर। ट्रेनों में मोबाइल चोरी करने वाले एक युवक को आरपीएफ की टास्क टीम एक ने बिलासपुर स्टेशन से पकड़ा है। उके हाव भाव को देख टीम को संदेह हुआ। उन्होंने तत्काल घेराबंदी कर युवक को गिरफ्तार किया। इसके बाद पूछताछ की गई, तो यह उजागर हुआ कि उसने चकरभाठा रेलवे स्टेशन से पूर्व में मोबाइल चोरी किया है। इस मामले की जांच की कार्रवाई है।

ट्रेनों में अपराध पर अंकुश लगाने के लिए जीआरपी के साथ- साथ आरपीएफ विशेष जांच करती है। समय- समय पर टास्क टीम भी बनाई जाती है। जिनका कोई और काम नहीं होता, उन्हें केवल अपराधिक गतिविधियों पर नजर रखनी होती है और आरोपितों को पकड़ना होता है। वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त आरके शुक्ला के निर्देशन पर टास्क टीम मोबाइल चोरी करने वालों के खिलाफ अभियान ही चला रही है। इसी कड़ी में आरपीएफ के सहायक उपनिरीक्षक सुदेशी बघेल के नेतृत्व में टीम बिलासपुर रेलवे स्टेशन में जांच कर रही थी।

इस दौरान यात्री प्रतीक्षा में एक युवक बैठा दिखाई दिया। वह जिस तरह से हरकत कर रहा था टीम को उस पर संदेह हुआ। उससे सामान्य पूछताछ की गई। जिस पर उसने अपना नाम मुकेश कैवर्त्य निवासी चकरभाठा बताया। लेकिन जब पूछताछ जारी रही तो तब वह गोलमोल जबाव देने लगा। जबकि उसे समझाइश देकर सच बताने के लिए कहा गया। बड़ी मुश्किल से उसने सही जानकारी दी।

पहले उसने चकरभाठा रेलवे स्टेशन में लोकल ट्रेन से मोबाइल चोरी किया है। उसे जीआरपी के हवाले कर दिया गया। जीआरपी पूछताछ कर रही है और यह खंगालने का प्रयास कर रही है कि वह इससे पहले कितनी घटनाओं को अंजाम दे चुका है। वैसे भी ट्रेन व स्टेशन में मोबाइल चोरी की सबसे ज्यादा घटना हुई है। जीआरपी ने आरोपित के खिलाफ धारा 279, 356 के तरह अपराध पंजीबद्ध कर लिया है। पूछताछ में कुछ और मामले जानकारी सामने आने की उम्मीद है।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close