बिलासपुर। Jairam Nagar Bilaspur News: जयरामनगर रेलवे स्टेशन मास्टर के साथ बहस होने के बाद एक पाइंटमैन ने उन्हीं के कार्यालय में कीटनाशक पी लिया। इससे उनकी हालत बिगड़ने लगी। स्टेशन मास्टर ने तत्काल स्टेशन में आनड्यूटी आरपीएफ को सूचना दी।

इसके बाद पाइंटमैन को मस्तूरी स्वास्थ्य केंद्र और बाद में रेलवे अस्पताल लाकर भर्ती कराया गया। बहस किस बात को लेकर हुई यह अभी स्पष्ट नहीं है। घटना के बाद रेलवे में हड़कंप मचा हुआ है।

घटना गुरुवार की दोपहर 12.15 बजे के करीब की है। बहोरन साहू जयरामनगर रेलवे स्टेशन में पाइंटमैन है। बुधवार रात 12 बजे से सुबह आठ बजे तक ड्यूटी थी। ड्यूटी के बाद घर चले गए और दोबारा फिर स्टेशन पहुंचे। इस दौरान स्टेशन मास्टर एके अग्नि के पास पहुंचे। इसी दौरान पाइंटमैन की किसी बात को लेकर स्टेशन मास्टर से बहस हो गई। इससे पहले कि कोई कुछ समझ पाता पाइंटमैन ने जेब से कीटनाशक निकाला और कार्यालय में ही पी लिया।

इसे देखकर स्टेशन मास्टर हड़बड़ा गए और उद्घोषणा कर आरपीएफ को बुलाया। उस समय प्रधान आरक्षक के कुजूर व आरक्षक अनिल पाल ड्यूटी पर थे। उद्घोषणा सुनकर दोनों स्टेशन मास्टर कक्ष पहुंचे। वहां जो नजारा था उसे देखकर वह हैरान रह गए। पाइंटमैन की तबीयत हालत बिगड़ने लगी थी। इस पर स्टेशन मास्टर ने घटना की जानकारी दी।

आरपीएफ के दोनों बल सदस्यों ने सबसे पहले नमक पानी पिलाकर व मुंह के अंदर उंगली डालकर उल्टी कराई। इसके बाद मस्तूरी लेकर गए। वहां स्वास्थ्य केंद्र में मौजूद चिकित्सक ने हालत देखकर बिलासपुर रेफर कर दिया। इसके बाद बल सदस्य पाइंटमैन को लेकर रेलवे अस्पताल पहुंचे और उन्हें भर्ती कराया। घटना की सूचना अधिकारियों को दी गई। मामले में रेल प्रशासन की ओर से जांच के निर्देश दिए गए हैं।

समय पर नहीं मिली एंबुलेंस, बाइक पर बल सदस्यों ने पहुंचाया अस्पताल

आरपीएफ बल सदस्यों की तत्परता की वजह से पाइंटमैन समय पर रेलवे अस्पताल पहुंच गए। दोनों बल सदस्यों ने सबसे पहले पाइंटमैन के स्वजनों की सूचना दी। इसके अलावा 108 एंबुलेंस को भी बुलाया। पर एंबुलेंस आने में देरी हो रही थी। ऐसी स्थिति में आरक्षक व प्रधान आरक्षक दोनों ने पाइंटमैन को बाइक में बैठाकर मस्तूरी स्वास्थ्य केंद्र ले गए।

वहां से वापस स्टेशन पहुंचे। तब तक एंबुलेंस पहुंच चुकी थी, लेकिन कर्मचारियों ने पाइंटमैन को एंबुलेंस में लेकर जाने से मना कर दिया। ऐसी स्थिति में बल सदस्यों ने बाइक में बैठाकर बिलासपुर रेल अस्पताल लेकर पहुंचे। इस दौरान पाइंटमैन के स्वजन भी थे।

घटना की जानकारी ली गई है। पता चला है कि पाइंटमैन ड्यूटी में हमेशा लापरवाही बरतता था। इसके अलावा अनुपस्थित भी रहता है। संभवत: इसे लेकर ही बहस हुई होगी। हालांकि सच्चाई जांच के बाद ही स्पष्ट होगी। पाइंटमैन को रेलवे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामले की जांच के निर्देशन दिए गए हैं।

पुलकित सिंघल

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक, बिलासपुर रेल मंडल

Posted By: sandeep.yadav

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags