बिलासपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। होलिका दहन में कंडे के उपयोग से जहां गौसंवर्धन होगा, वहीं प्रकृति की भी रक्षा होगी। क्योंकि गाय का गोबर और गोबर से बने कंडे पवित्र माने जाते हैं। साथ ही इनका उपयोग पूजन कार्य में होता है। कंडे के जलने से उसकी सुगंध फैलती है उससे वातावरण भी पवित्र बनता है। जितना ज्यादा कंडे का उपयोग होगा, उतना ही गौसंवर्धन होगा और इसकी सुगंध से वातावरण की पवित्रता के साथ ही पेड़ पौधे भी सुरक्षित रहेंगे। इससे प्रकृति भी समृद्ध होगी।

नईदुनिया सरोकार अभियान आओ फिर जलाएं कंडे की होली को भागवताचार्य पं.अमर कृष्ण शुक्ला महाराज ने अपना समर्थन देते हुए कहा कि नईदुनिया की यह अनुपम पहल है। होली के समय होलिका दहन करना और पूजन करने की परंपरा रही है। लेकिन, कुछ समय से लोग लकड़ियों का उपयोग करने लगे हैं। इससे पर्यावरण को भी नुकसान पहुंच रहा है। क्योंकि लोग बिना सोचे-विचारे होलिका बनाने के लिए बड़ी संख्या में हरे पेड़ों को भी काट देते हैं। वहीं पूजन कार्य में सभी प्रकार की लकड़ियां उपयोग नहीं की जाती हैं। कुछ विशेष प्रकार की लकड़ियों का ही उपयोग किया जाता है। ऐसे में गोबर के कंडे से होलिका बनाना हर तरीके से एक बेहतर विकल्प है। इससे पर्यावरण भी सुरक्षित होगा और वातावरण में फैले इसके धुएं और सुगंध से कई वायरस खत्म होंगे। वहीं मच्छर भी खत्म होते हैं। कंडे की उपयोगिता को देखते हुए लोग गौ संवर्धन की दिशा में बड़ी संख्या में लोग कार्य करेंगे।

इसी कड़ी में श्रीनामदेव परिषद के जिला अध्यक्ष आलेख वर्मा का कहना है कि समाज में हमेशा प्रेरणादायक कार्य करने और लोगों को उस से जोड़ने के लिए प्रयासरत रहते हैं। ऐसे में नईदुनिया का यह अभियान समाज के लिए एक सार्थक पहल है। इसे समाज को अपनी प्रकृति और हमारी संस्कृति की महत्ता की जानकारी मिलेगी। सदियों से गाय को पवित्र माना गया है और उससे मिले दूध और गोबर को भी पवित्र मानते हैं। ऐसे में कंडे से बनी होलिका के दहन से जहां वातावरण में सकारात्मक ऊर्जा के साथ पवित्रता आएगी, वहीं होली जैसा पर्व और भी पवित्र बनेगा। होली पर्व भगवान श्रीकृष्ण की आस्था से जुड़ा हुआ है। वहीं भगवान ने संसार को गौ सेवा और उसके संरक्षण का संदेश दिया है। कंडों के अधिक से अधिक उपयोग से हम भगवान श्रीकृष्ण के बताए मार्ग गौ संरक्षण की दिशा में कार्य कर सकेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना