बिलासपुर। Karwa Chauth 2021: सुहागिन महिलाओं के लिए करवा चौथ के व्रत का विशेष महत्व है। इस बार यह 24 अक्टूबर को पड़ रहा है। इस दिन भोर में हीं व्रत की शुरुआत हो जाएगी। दिनभर निर्जला व्रत करने के बाद शाम को पूजन की शुरुआत की जाएगी। वहीं चंद्रोदय रात 8.02 बजे होगा। इसके साथ ही चलनी की ओट से चंद्रमा को देखने के बाद व्रती महिलाएं अपने पति को देखेंगी। साथ ही उनकी दीर्घायु की कामना करेंगी। पति के हाथों से ही पानी पीकर व्रत का पारण करेंगी। इसके लिए वे अभी से ही तैयारियां शुरू कर चुकी हैं।

करवा चौथ का व्रत कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष चतुर्थी तिथि को रखा जाता है। इस साल करवा चौथ का व्रत 24 अक्टूबर, रविवार को रखा जाएगा। महिलाएं इस दिन का बेसब्री से इंतजार कर रही हैं। साथ ही तैयारियों में जुटी हुई हैं। नई साड़ियों के साथ ही गहने व पूजन सामग्री आदि की खरीदी शुरू कर चुकी हैं। शहर के शनिचरी, बृहस्पति बाजार, देवकीनंदन चौक के पास समेत अन्य जगहों पर पूजन सामग्रियों की बिक्री होने लगी हैं। वहीं ज्वेलरी से लेकर डिजाइनर व सामान्य साड़ियों की खरीदी भी शुरू हो गई है। इससे इन दुकानों में भीड़ भी देखने को मिल रही है।

यह है मुहूर्त

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, इस साल चतुर्थी तिथि की शुरुआत 24 अक्टूबर को ही भोर में 03:01 बजे से होगा। यह 25 अक्टूबर की सुबह 5:43 बजे तक रहेगी। इस साल करवा चौथ व्रत पर पूजन का शुभ मुहूर्त शाम 5:30 बजे से शाम 6:45 बजे तक का रहेगा। यानी इसकी अवधि एक घंटे 15 मिनट तक की रहेगी। इस दिन चंद्रोदय रात 8:02 बजे होगा। वहीं करवा चौथ व्रत का समय सुबह 6.01 बजे से रात 08.02 बजे तक यानी कुल 14 घंटे एक मिनट का रहेगा।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local