बिलासपुर। Bilaspur News: रेलवे यूनियन चुनाव एक फिर आगे टलता हुआ नजर आ रहा है। अभी तक चुनाव की तारीख जारी नहीं हुई है। जबकि बोर्ड ने माह के प्रारंभ में जिस तरह वोटरों की सूची बनाने का आदेश सभी जोन के कार्मिक अधिकारियों को दिया था। उसके तहत दिसंबर में चुनाव होने की संभावना थी। आदेश अब तक नहीं हुआ है। यह तीसरी बार है जब रेलवे में मतदाता कर्मचारियों की सूची जारी हुई और मामला ठंडे बस्ते में चला गया।

रेलवे में हर पांच साल में यूनियन चुनाव कराने का नियम है, लेकिन अवधि बीतने के डेढ़ साल के बाद भी अब तक चुनाव नहीं हो पाया है। रेलवे बोर्ड को भी इसकी जानकारी है। बोर्ड स्तर पर सभी जोन को मतदाताओं की सूची बनाने के लिए निर्देश दिए जाते हैं। अक्टूबर में फिर से आदेश आया था। इसमें पांच नवंबर तक सूची तैयार करने के निर्देश थे।

तीसरी बार जारी इस आदेश से दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन में चुनावी हलचल शुरू हो गई थी। यूनियन ने तो अलग-अलग जगहों पर बैठक कर मतदाता कर्मचारियों से वार्ता और अपनी उपलब्धियों के अलावा सत्ता में आने के बाद उनके हित में किस तरह के कार्य होंगे, इसकी जानकारी दे रहे थे। सभी यह मान रहे थे कि दिसंबर तक चुनाव हो जाएगा लेकिन अभी तक तारीख तय नहीं हुई है। इसके चलते यूनियन के पदाधिकारियों में निराशा है।

इन्होंने कहा

चुनाव के बाद यूनियन का कार्यकाल निर्धारित रहता है। अवधि समाप्त होने के बाद नियमानुसार दोबारा चुनाव कराने की प्रक्रिया पूरी कर लेनी चाहिए, लेकिन हर बार मतदाताओं की सूची तैयार करने का आदेश दिया जाता है पर तारीख की घोषणा नहीं हो पा रही है।

सी नवीन कुमार

सहायक महामंत्री, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे श्रमिक यूनियन बिलासपुर

Posted By: anil.kurrey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस