बिलासपुर। उद्यमिता विकास, स्टार्ट अप व शोध के क्षेत्र में छात्र छात्राओं को अब बड़ा लाभ मिलेगा। गुरु घासीदास केंद्रीय विश्वविद्यालय व एंटरप्रिन्योरशिप डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट आफ इंडिया (ईडीआइआइ) अहमदाबाद के बीच आठ दिसंबर की सुबह 11 बजे रजत जयंती सभागार में एमओयू के दस्तावेज पर हस्ताक्षर होंगे।

रजत जयंती सभागार में आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डा. सुनील शुक्ला महानिदेशक एंटरप्रिन्योरशिप डेवेलपमेंट इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (ईडीआइआइ) अहमदाबाद होंगे। अध्यक्षता विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.आलोक कुमार चक्रवाल करेंगे। विश्वविद्यालय के इंक्यूबेशन सेंटर के नोडल अधिकारी डा.पीपी मूर्ती हैं। गौरतलब है कि इस समझौता ज्ञापन के अंतर्गत विश्वविद्यालय में उद्यमिता विकास, स्टार्ट अप को प्रोत्साहन एवं नवाचार व शोध को बढ़ावा देने पर कार्य किया जाएगा।

ईडीआइआइ अहमदाबाद गुरु घासीदास विश्वविद्यालय के शोधार्थियों एवं विद्यार्थियों को विभिन्न क्षेत्रों में उपलब्ध अवसरों के साथ नया स्टार्ट अप स्थापित करने में आवश्यक विभिन्न आयामों से अवगत होने में सहायता प्रदान करेगा। इस एमओयू के अंतर्गत विश्वविद्यालय में पूरे वर्ष में विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किये जाएंगे जिससे छात्र शिक्षक कर्मचारियों के साथ इस क्षेत्र के विभिन्न विश्वविद्यालय तथा महाविद्यालय लाभ ले सकेंगे। इसके अलावा विश्वविद्यालय में तीन दिवसीय उद्यमिता जागरुकता शिविर 13 से 15 दिसंबर तक आयोजित है। 10 दिसंबर तक प्रतिभागी पंजीयन करा सकते हैं।

वेबसाइट पर सारी जानकारी सार्वजनिक की गई है। पंजीयन शुल्क 500 रुपये है। शिविर में डा. ईश्वर कुमार, राज्य समन्वयक ईडीआईआई के साथ विश्वविद्यालय के इंक्यूबेशन सेंटर की कोर कमेटी में डा. हरिशंकर तिवारी सह प्राध्यापर भौतिकी विभाग, डा. अमित खासकलम सहायक प्राध्यापक आईटी, डा. विवेकानंद मंडल सहायक प्राध्यापक फार्मेसी विभाग एवं ब्रजभूषण चतुर्वेदी सहायक प्राध्यापक गणित विभाग शिरकत करेंगे।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local