Murder in Bilaspur: बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। उधार में दिए स्र्पये वापस मांगने पर पड़ोसी ने वृद्ध की लाठी से पिटाई कर दी। मारपीट से घायल को स्वजन अस्पताल लेकर आए। यहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर मामले की जानकारी पुलिस को दी। इस पर पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पीएम कराया है। पुलिस ने मामले में हत्या के आरोपित को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया है।

कोटा क्षेत्र के खरगहनी में रहने वाले संतोष यादव किसान हैं। गुस्र्वार की रात परिवार के साथ खाना खाने के बाद वे नाले के पास बने मकान में ताला लगाने के लिए चले गए। इस दौरान उनके पिता लालाराम यादव(60) घर में थे। उनका पड़ोसी नंदराम केंवट घर के सामने आकर लेनदेन के पुराने विवाद को लेकर गाली-गलौज करने लगा। वृद्ध ने घर से बाहर निकलकर उसे मना किया। इस पर नंदराम डंडे से वृद्ध की पिटाई करने लगा। इस दौरान वहां पर मौजूद लालाराम की नातिन पूजा, शालिनी व बहू मनीषा ने बीच-बचाव की कोशिश की।

नंदराम ने उन्हें भी जान से मारने की धमकी दी। मारपीट से सिर में चोट लगने के कारण वृद्ध वहीं पर गिर गए। नातिन और बहू उन्हें उठाने का प्रयास कर रहे थे। किसी ने घटना की जानकारी संतोष को दी। इस पर वे अपने घर के पास पहुंचे। वे घायल पिता को उठाकर घर के अंदर ले गए। इसके बाद डायल 112 को घटना की जानकारी दी। डायल 112 के वाहन से घायल को कोटा स्थित अस्पताल लाया गया। यहां डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर शव चीरघर भेज दिया। घटना की सूचना पर पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पीएम कराया। स्वजन ने पूछताछ में बताया कि चार साल पहले लालाराम ने पड़ोसी नंदराम को कुछ स्र्पये उधार में दिए थे। पड़ोसी उधार में ली रकम को वापस नहीं कर रहा था। इसके कारण उनके बीच आए दिन विवाद होता था। गुस्र्वार की रात भी इसी बात को लेकर विवाद हुआ। पूछताछ के बाद पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया है।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close