अंबिकापुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। अंबिकापुर के नवापारा स्थित शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र प्रदेश के दूसरे शहरी प्राथमिक सरकारी अस्पतालों के लिए रोल माडल बना है। कम समय में ही इस अस्पताल में कीमोथेरेपी की भी सुविधा उपलब्ध करा दी गई है। यहां विभिन्न प्रकार के स्वास्थ्य जांच और उपचार की सुविधा उपलब्ध करा दी गई है। इस अस्पताल से मेडिकल कालेज अस्पताल अंबिकापुर का दबाव कम हुआ है। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव के गृह नगर में स्थित इस अस्पताल को अब प्रदेश के दूसरे शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के समक्ष एक उदाहरण के स्वरूप प्रस्तुत किया जा रहा है।

अंबिकापुर के नवापारा मोहल्ले में वर्ष 2012 में शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की स्थापना की गई थी। पुराने जिला आयुर्वेद अस्पताल को शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बनाया गया था।बड़ी आबादी को स्वास्थ सुविधा उपलब्ध कराने वाले इस अस्पताल में लगातार सुविधाओं का इजाफा होता चला गया। स्थानाभाव की कमी को देखते हुए यहां अतिरिक्त भवन का निर्माण कराया गया ताकि मरीजों और उनके स्वजन को किसी प्रकार की कोई परेशानी ना हो। स्वच्छता से लेकर जांच और उपचार तक अस्पताल प्रबंधन ने अपनी उत्-ष्टता साबित की है स्वास्थ्य से जुड़ी योजनाओं का प्रचार प्रसार और अस्पताल में उपलब्ध सुविधाओं को सरल तरीके से जनता तक लाने का प्रयास इस पूरे परिसर में किया गया है। इससे यहां मरीजों की संख्या भी लगातार बढ़ती जा रही है। मेडिकल कालेज अस्पताल में बढ़ते दबाव को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को सर्व सुविधा युक्त बनाने का निर्णय लिया था। उसी के तहत यहां सुविधाएं विकसित होने से मरीजों को सीधा लाभ मिलना शुरू हो गया है। इस अस्पताल में गुणवत्तापूर्ण चिकित्सा सुविधा, दवाइयों की पर्याप्त उपलब्धता, विभिन्न प्रकार के स्वास्थ्य जांच, प्रसव की सुविधा भी उपलब्ध है। इस अस्पताल का व्यवस्थित संचालन होने से मेडिकल कालेज अस्पताल में मरीजों का दबाव भी कम हुआ है। कायाकल्प स्वच्छ अस्पताल पुरस्कारों की श्रेणी में एक बार फिर इस अस्पताल ने अपनी उत्कृष्टता साबित की है।

कई मायनों में खास है यह अस्पताल-

अंबिकापुर का शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कई मायनों में खास है। यह अेसा अस्पताल है जहां कैंसर के मरीजों के लिए कीमोथेरेपी की सुविधा भी उपलब्ध कराई गई है। संभाग भर के कैंसर के मरीज इस सुविधा का लाभ उठा रहे हैं। समय-समय पर कैंसर विशेषज्ञ यहां आकर बीमारी को लेकर महत्वपूर्ण जानकारी भी देते हैं। अस्पताल में फिजियोथैरेपी की सुविधा भी उपलब्ध है। मानसिक रोगियों के लिए यहां बाह्य रोगी चिकित्सा विभाग भी संचालित किया जा रहा है। पोस्ट कोविड मरीजों के लिए भी यहां सुविधाएं उपलब्ध कराई गई है। इस अस्पताल को दर्द निवारण व देखभाल केंद्र के रूप में विकसित किया गया है।

तीन महीने में सर्जरी और ब्लड बैंक की मिलेगी सुविधा-

शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नवापारा को सर्व सुविधा युक्त बनाने योजनाबद्ध तरीके से कार्य किया जा रहा है। अगले तीन महीने में यहां दंत रोग विभाग का ओपीडी आरंभ किया जाएगा। आपरेशन थिएटर की स्थापना कर सामान्य सर्जरी की सुविधाएं उपलब्ध करानी शुरू कर दी जाएगी। रेडक्रास की दवा दुकान और ब्लड बैंक की स्थापना के लिए भी सारी तैयारी कर ली गई है।

लगातार तीसरे वर्ष बड़ी उपलब्धि-

स्वास्थ्य के क्षेत्र में किसी उपलब्धि को बरकरार रखना आसान नहीं होता लेकिन नवापारा शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ने सीएमएचओ डा. पीएस सिसोदिया और शहरी कार्यक्रम प्रबंधक डा. अमीन फिरदौसी के नेतृत्व में अपनी उपलब्धि को बरकरार रखने में सफलता हासिल की है। वर्ष 2018-19 में भी यह अस्पताल,प्रदेश के सभी शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में अव्वल था। वर्ष 2019-20 में एक पायदान खिसक कर यह दूसरे नंबर पर आ गया था लेकिन यहां पदस्थ चिकित्सक और स्वास्थ्य कर्मचारियों की जी तोड़ मेहनत तथा शासन की मंशा के अनुरूप बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराकर कायाकल्प स्वच्छ अस्पताल की श्रेणी में फिर प्रदेश में पहला स्थान हासिल कर लिया है।

नवापारा शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र-

0 स्थापना-11 नवंबर 2012

0 जनसंख्या- 48 हजार 96

0 पुरुष जनसंख्या- 25 हजार 631

0 महिला जनसंख्या- 22 हजार 465

0 शहरी स्वास्थ्य केंद्र-चार

0 क्षेत्रफल-चार किमी तक

0मितानिनों की संख्या-95

0 महिला आरोग्य समिति-95

0 कोविड जांच और टीकाकरण केंद्र

कोरोना काल में वरदान-

नवापारा शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र,कोरोना काल में वरदान साबित हुआ।यहां कोरोना की जांच के अलावा अंबिकापुर शहरी क्षेत्र में मरीजों तक दवा पहुंचाने में इसने अपनी उपयोगिता साबित की।इसे कोविड का टीकाकरण केंद्र भी बनाया गया।कोविड जांच और टीकाकरण की सुविधा आज भी उपलब्ध है। पोस्ट कोविड मरीजों के लिए भी यहां बाह्य रोगी विभाग का संचालन शुरू किया जा रहा है।

बयान-

स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव की मंशा के अनुरूप स्वास्थ्य विभाग द्वारा शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नवापारा को सर्वसुविधायुक्त बनाने के लिए कार्य जारी है।जिला पंचायत सदस्य और रेडक्रास सोसायटी के चेयरमैन आदित्येश्वर शरण सिंहदेव के नेतृत्व में अस्पताल में न सिर्फ सामान्य बीमारियों की जांच और उपचार की सुविधा उपलब्ध कराई गई है बल्कि यहां कैंसर,मानसिक रोगियों के लिए भी इंतजाम किया गया है।आने वाले तीन महीने में यहां और सुविधाएं विकसित होंगी जिसका लाभ सरगुजा की जनता को मिलेगा।

डा. अमीन फिरदौसी

शहरी कार्यक्रम प्रबंधक,अंबिकापुर

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local