बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन के बाद भी नगर निगम को शहर की सफाई व्यवस्था की चिंता सताने लगी है। यही कारण है कि मंगलवार से निगम आयुक्त ने एक नई व्यवस्था लागू कर दी है। अब निगम के इंजीनियर सुबह छह से आठ बजे के बीच अपने प्रभार वाले वार्डों में नजर आएंगे और सफाई व्यवस्था का जायजा लेंगे ।

शहर की सफाई व्यवस्था का जायजा लेने के लिए इसी महीने दिल्ली से स्टार रेटिंग की टीम आने वाली है। यहां आने के बाद टीम अपने स्तर पर वार्डों का औचक निरीक्षण करेगी और सफाई व्यवस्था को देखेगी । तय मापदंडों के अनुरुप जहां कमी मिलेगी उसे अपने दस्तावेजों में मार्किंग करने के साथ ही स्पॉट का मोबाइल के जरिए फोटो भी लेगी और सीधे अपलोड कर देगी । सफाई के साथ ही खामियों पर भी नजर रखेगी । जहां की सफाई व्यवस्था दुरुस्त नजर आएगी वहां का फोटो खीचने के बाद अपलोड कर देंगे । स्टार रेटिंग के जाने के बाद स्वच्छता सर्वेक्षण की टीम आएगी । स्वच्छता सर्वेक्षण की टीम का मापदंड एकदम अलग होगा। टीम के सदस्यों का सुलभ शौचालय,पेट्रोल पंप के अलावा सार्वजनिक जगहों पर फोकस रहेगा। सार्वजनिक जगहों पर सफाई को परखेंगे । स्टार रेटिंग की टीम आने से पहले निगम आयुक्त ने वार्डों में सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए अधीक्षण अभियंता से लेकर ईई,इंजीनियर,असिस्टेंट इंजीनियर व सब इंजीनियरों की ड्यूटी लगा दी है। सभी को वार्ड का प्रभार दे दिया गया है। मंगलवार से व्यवस्था लागू कर दी गई है। इंजीनियर अपने प्रभार वाले वार्ड में सुबह 6 बजे से भ्रमण करेंगे जो आठ बजे तक चलेगा। भ्रमण के दौरान मिलने वाली खामियों को डायरी में नोट करेंगे और सुबह 10.30 बजे सीधे कमिश्नर को रिपोर्टिंग करेंगे ।

Posted By: Nai Dunia News Network