बिलासपुर। नूतन चौक स्थित बाल संप्रेक्षण गृह से दो बच्चे फरार हो गए थे। इस मामले में बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष तेजकूंवर नेताम ने जिम्मेदार अधिकारियों पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। आदेश के तीन दिन बाद भी महिला एवं बाल विकास विभाग के अफसर अभी तक जिम्मेदार अधिकारी तय नहीं कर पाए हैं न किसी पर कार्रवाई की गई है। यहां के अफसरों पर आयोग अध्यक्ष के आदेश का असर नहीं पड़ा है। दूसरी ओर घटना के 15 दिन बाद भी फरार दोनों बच्चों के बारे में कुछ पता नहीं चल पाया है। न संबंधित विभाग खोजबीन कर रहा है और न पुलिस।

दो सप्ताह पहले बाल संप्रेक्षण गृह से दो नाबालिग दीवार फांदकर फरार हो गए थे। पहले तो इस घटना को अधिकारी दबाने के प्रयास में लगे रहे। लेकिन मामला सार्वजनिक होने के बाद बाल गृह के अधिकारी ने घटना के दूसरे दिन सरकंडा पुलिस को सूचना दी। पुलिस टीम पहले दिन खोजबीन किया लेकिन दोनों बच्चे नहीं मिले।

बताया जा रहा है कि दोनों बच्चे चोरी के आरोप में अंदर हुए थे। एक बच्चा सरकंडा चांटीडीह और दूसरा बच्चा कोटा का रहने वाला है। घटना के 15 दिन बाद भी दोनों बच्चों के बारे में पता नहीं चल पाया है। 23 मई को बाल संरक्षण आयोग के अध्यक्ष तेजकूंवर नेताम निरीक्षण करने नूतन चौक स्थित बाल गृह पहुंची थीं। दो बच्चों के भागने के बारे में पता चलते ही उन्होंने जिम्मेदार अधिकारियों पर कार्रवाई करने निर्देश दिए।

अभी तक आदेश का पालन नहीं किया गया है। महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी सूर्यकांत गुप्ता का कहना है कि अभी मामले की जांच की जा रही है। इसके बाद जिम्मेदारी तय कर उचित कार्रवाई की जाएगी। बाल गृह से भागे दोनों बच्चों के बारे में फिलहाल कोई जानकारी नहीं मिली है। पुलिस खोजबीन कर रही है।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close