बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना टीकाकरण अभियान के तहत निश्शुल्क सतर्कता डोज के लिए सिर्फ दो दिन का समय बचा है। ऐसे में अंतिम चरण में एक बार फिर वैक्सीन सेंटर में भीड़ उमड़ रही है। लेकिन इसके बाद भी लक्ष्य के अनुरूप टीका नहीं लग रहा है। निश्शुल्क सतर्कता डोज के सिर्फ बचे दो दिन बचे हैं। इसको देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने जिले के वंचित आठ लाख लोगों टीकाकृत होने की सलाह दी है।

कोरोना का सतर्कता डोज निश्शुल्क होने के बाद भी आशा के अनुरूप लोगों ने सतर्कता डोज नहीं लगाई है। जिले के साढ़े 13 लाख लोगों को सतर्कता डोज लगाने का लक्ष्य रखा गया है। लेकिन अभी तक लगभग पांच लाख ने ही सतर्कता डोज ली है। अब 30 सितंबर के बाद सतर्कता डोज निश्शुल्क नहीं रहेगी। एक अक्टूबर से सतर्कता डोज चयनित निजी अस्पतालों में लगाई जाएगी। वहां 385 स्र्पये शुल्क अदा करना होगा। ऐसे में अभी भी दो दिन बचे हुए हैं। ऐसे में लोग इन दो दिनों के भीतर बिना स्र्पये खर्च किए सतर्कता डोज लगवा सकते हैं। इन बात को ध्यान में रखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने जिलेवासियों से अपील की है कि इन दो दिनों में ज्यादा से ज्यादा संख्या में टीकाकरण केंद्र पहुंचकर सतर्कता डोज लगाएं और कोरोना महामारी से सुरक्षित दायरा बनाएं।

हालांकि सतर्कता डोज के अंतिम दिन चलने की वजह से पिछले कुछ दिनों से केंद्रों में भीड़ उमड़ रही है और रोजाना आठ से 10 हजार को सतर्कता डोज लग रही है। वहीं, अब बचे दो दिन में स्वास्थ्य विभाग कम से कम 30 से 40 हजार को टीका लगवाना चाह रही है। इन्हीं बातों को ध्यान में रखकर जिलेवासी को निश्शुल्क सतर्कता डोज लगाने की सलाह दी जा रही है। जिला टीकाकरण अधिकारी डा. मनोज सैमुअल ने जानकारी दी है कि दो दिनों के लिए पर्याप्त मात्रा में टीका उपलब्ध है। ऐसे में इस स्थिति का जिलेवासी फायदा उठाते हुए अपना सतर्कता वैक्सीनेशन करा सकते हैं।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close