बिलासपुर। SECR News: राहगीर 29 अक्टूबर से जैतहरी रेलवे फाटक का उपयोग नहीं कर पाएंगे। रेलवे इसे हमेशा के लिए बंद कर रही है। हालांकि उनकी परेशानी को देखते हुए वैकल्पिक व्यवस्था लिमिटेड हाइट सब-वे का निर्माण कराया गया है। अब राहगीर इसे आवाजाही करेंगे। सप्ताहभर में यह तीसरा रेलवे फाटक है, जिसे रेलवे स्थाई रूप से बंद कर रही है। 25 अक्टूबर को लटिया-जयरामनगर के बीच स्थिति मानव सहित समापार संख्या 359 पाराघाट रेलवे फाटक और उदिया फाटक को बंद किया गया।

अब जैतहरी यार्ड किमी. 856/03-05 पर स्थित मानव सहित समपार संख्या-55 जैतहरी फाटक को सुरक्षागत कारणों से बंद किया जा रहा है। फाटक से लगा हुआ सबवे से आवाजाही करेंगे। इसकी सूचना भी फाटक के पास चस्पा कर दी गई है, ताकि राहगीरों को यह न लगे कि रेलवे ने अचानक इसे बंद कर दिया है। इससे विवाद नहीं होगा और न राहगीर भटकेंगे। दरअसल रेलवे सभी मानव सहित फाटक को बंद करने की तैयारी में हैं। हर साल एक लक्ष्य लेकर इस दिशा में काम हो रहा है।

आवश्यकतानुसार जहां सब- वे की जरुरत है वहां इसका निर्माण करा रहा है। पर जहां रोड ओवरब्रिज व अंडरब्रिज की आवश्यकता है वहां ब्रिज बनाकर राहत दी जा रही है। सुरक्षा के मद्देनजर यह जरुरी भी है, क्योंकि फाटक में हमेशा दुर्घटना की आशंका रहती है। लोग हड़बड़ी में अक्सर बंद फाटक पार करने का प्रयास करते हैं। मनाही के बाद भी वह नहीं मानते है और रेलकर्मियों के साथ विवाद करने के लिए आतुर हो जाते हैं। जैतहरी रेलवे फाटक में अब ऐसा नहीं होगा। बंद होते ही यह पूरी तरह सुरक्षित हो जाएगा।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local