बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। कलेक्टर सौरभ कुमार ने अधिकारियों की बैठक लेकर 30 सितंबर के पूर्व पात्र लोगों को अधिक से अधिक सतर्कता डोज लगवाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि मुफ्त वैक्सीन के लिए केवल सात दिन शेष हैं। 30 सितंबर के बाद निश्शुल्क टीका की सुविधा खत्म हो जाएगी। इसके बाद लोगों को पैसे देकर अस्पतालाें में सतर्कता डोज लगानी होगी।

कलेक्टर ने कहा कि कोरोना संक्रमण की चुनौती अभी खत्म नहीं हुई है। कोरोना के नए मामले अभी भी आ रहे हैं। कोविड से बचाव का एकमात्र उपाय टीकाकरण ही है। कलेक्टर ने टीकाकरण मुहिम की रफ्तार बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। जिले में अभी लगभग औसतन दो हजार 200 लोगों को ही टीका लग रहा है। कलेक्टर ने अभियान के बारे में फ्लेक्स एवं अन्य माध्यमों से प्रचार-प्रसार करने को कहा। मितानिन एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को इस अभियान से जोड़ते हुए घर-घर संपर्क करने के निर्देश दिए।

जिले में प्रथम डोज 14 लाख 76 हजार 338 लोगों को, सेकेण्ड डोज 13 लाख 91 हजार 83 लोगों को एवं बूस्टर डोज तीन लाख 38 हजार 18 लोगांे को लगाया जा चुका है। कलेेक्टर सौरभ कुमार ने जिले के नागरिकों से अपील है कि मुफ्त कोविड बूस्टर डोज की सुविधा केवल 30 सितंबर तक है। इस अवधि में बूस्टर डोज के छूटे हुए पात्र नागरिक अवश्य अपने नजदीकी टीकाकरण केंद्रों में टीका लगवा लें। बैठक में जिला पंचायत सीईओ जयश्री जैन, सभी एसडीएम, सीईओ जनपद, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी अनिल श्रीवास्तव सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

आयुष्मान कार्ड बनाने में लाए तेजी

कलेक्टर ने जिले में आयुष्मान कार्ड की धीमी गति पर नाराजगी जाहिर करते हुए इसमें प्रगति लाने के निर्देश दिए हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जानकारी दी गई कि जिले में छह लाख 40 हजार 18 आयुष्मान कार्ड बने हैं। यह लक्ष्य का 57 प्रतिशत है। कलेक्टर ने धीमी गति से चल रही कार्ड बनाने की प्रकिया में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने प्रगति को नाकाफी बताते हुए स्पष्ट कहा कि आयुष्मान कार्ड बनाने का लक्ष्य जल्द से जल्द पूरा कर लिया जाए। जनपद सीईओ को निर्देश दिए कि ग्राम पंचायतों में आयुष्मान कार्ड के संबंध में अधिक से अधिक प्रचार प्रसार किया जाए। मितानिन, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, एवं सचिवों को घर-घर जाकर लोगों को प्रेरित करें।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close