बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। केंद्र सरकार ने शनिवार को पेट्रोल-डीजल में उत्पाद शुल्क घटा दिया है। केंद्रीय मंत्रालय निर्मला सीतारमण ने जानकारी देते हुए कहा कि पेट्रोल पर केंद्रीय उत्पाद शुल्क आठ स्र्पये प्रति लीटर और डीजल पर छह स्र्पये प्रति लीटर की कमी की जा रही है। इससे पेट्रोल की कीमत 9.5 स्र्पये प्रति लीटर और डीजल की कीमत सात स्र्पये प्रति लीटर कम हो जाएगी। इससे सरकार के राजस्व पर हर साल करीब एक लाख करोड़ स्र्पये का भार आएगा।

इस घोषणा के बाद लोगों ने कुछ हद तक राहत की सांस ली है। बिलासपुर जिले के किसी पेट्रोल पंप में शनिवार की रात 12 बजे तक पेट्रोल-डीजल के कीमतों में परिवर्तन नहीं किया गया है। बढ़े हुए दामों पर पेट्रोल-डीजल बिक्री की जा रही है।

बिलासपुर में बीते 46 दिनों से पेट्रोल व डीजल के दाम स्थिर है। यह भी अपने आप में एक कीर्तिमान ही है। जिस दाम पर स्थिरता कायम है, यह अब तक की सबसे ऊंची कीमत है। पेट्रोलियम कंपनियों ने चार अप्रैल को पेट्रोल व डीजल के दाम में रिकार्ड तेजी लाई। तेजी के बाद दाम को अब तक स्थिर रखा गया है। पेट्रोल प्रति लीटर 112.59 रुपये व डीजल प्रति लीटर 103 रुपये 97 पैसे पर स्थिर है।

यह पहली बार है जब पेट्रोल व डीजल 100 रुपये के आंकड़े को पार कर गया है। अब तक की सबसे ज्यादा कीमत है। बढ़ी हुई कीमत पर बाजार के स्थिर रहने से उपभोक्ताओं को राहत भी नहीं मिल रही है। इसका असर दैनिक जीवन पर पड़ने लगा है। रोजमर्रा के चीजो की कीमतें बढ़ने लगी है।

शनिवार की रात आठ बजे केंद्र सरकार ने उत्पाद शुल्क घटाने का एलान किया है। लेकिन पेट्रोल पंप में कोई असर नहीं पड़ा है। बढ़ी हुई कीमतों में पेट्रोल-डीजल बिक्री की जा रही है। रविवार को सुबह कीमत कम होने की संभावना है।

Posted By: anil.kurrey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close