बिलासपुर। Bilaspur News: जोनल स्टेशन में ट्रेनों के आगमन, प्रस्थान के अलावा प्लेटफार्म नंबर की बेहतर जानकारी नहीं मिल पा रही है। पूर्व में लगाए गए 35 एलईडी बोर्ड का ठेका समाप्त होने के बाद हटा लिया गया है। हालांकि नए सिरे से टेंडर किया गया है। रायपुर की जिस निजी कंपनी को जवाबदारी मिली है उसने फरवरी में केबल भी बिछाए। लेकिन उसी समय कोरोना के कारण योजना अटक गई।

जोनल स्टेशन में प्रतिदिन 60 हजार यात्रियों की भीड़ रहती है। हालांकि अभी कोरोना के कारण संख्या घट गई है। लेकिन एलईडी लगाकर ट्रेनों के आगमन, प्रस्थान और किस प्लेटफार्म पर आएगी इसके लिए योजना बनाई गई थी। इसके तहत हर प्लेटफार्म में एलईडी लगना था। रेलवे ने प्रक्रिया पूरी भी की। इस दौरान नए टेंडर में 50 एलईडी लगाने का निर्णय लिया गया। प्रक्रिया नियमित चल रही थी।

इसी दौरान मार्च में कोरोना का कहर शुरू हो गया। आनन- फानन में ट्रेनों का परिचालन बंद करना पड़ा। देखते ही देखते सभी ट्रेनें बंद हो गईं। इसी का नतीजा है कि यात्रियों की यह सुविधा बंद हो गई। हालांकि जुलाई से एक-एककर ट्रेनों का परिचालन शुरू कर दिया गया। लेकिन अभी तक यह सुविधा यात्रियों को नहीं मिल पा रही है। इसके चलते उन्हें परेशानी हो रही है।

पूछताछ केंद्र में यात्री भीड़ के कारण कहीं कोरोना की चपेट में न आ जाए इसलिए जाने से घबराते हैं। मालूम हो कि यात्रियों को यह सुविधा सीसीटीवी योजना के तहत दी जाती है। इसके तहत कंपनी आधे समय में डिस्प्ले बोर्ड में विज्ञापन और आधे समय में ट्रेनों की जानकारी प्रसारित करती है।

इन्होंने कहा

नया टेंडर हो गया है। कोरोना के कारण ठेका कंपनी काम नहीं कर पाई थी। जल्द ही यात्रियों को पहले की तरह सुविधा मिलने लगेगी।

पुलकित सिंघल

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक, बिलासपुर रेल मंडल

Posted By: anil.kurrey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस