बिलासपुर।Political News In Bilaspur: आम आदमी पार्टी ने किसानों को चार किस्त में दी जाने वाली राशि को बिना रकम काटे एक मुश्त देने की मांग की है। फसल की रकम को चार किस्तों में भुगतान किया जा रहा है, जबकि चुनावी घोषणा पत्र में इस बात का उल्लेख नहीं किया गया था कि समर्थन मूल्य की राशि को प्रदेश सरकार इस तरह से किस्तों में भुगतान करेगी।

पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष कोमल हुपेंडी ने बताया कि प्रदेश के किसानों के साथ यह एक तरह का छल है। महामारी के दौर में ग्रामीण अर्थव्यवस्था चरमरा गई है। रोजमर्रा की जरूरत के हिसाब से लोगों के पास पैसे नहीं है। वे इस दौर में दर-दर भटक रहे हैं।

आम आदमी पार्टी की नेत्री दुर्गा झा ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में मनरेगा श्रमिकों को एक अप्रैल 2021 से प्रतिदिन 193 रुपये मजदूरी देना तय हुआ है। भारत सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा मनरेगा अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए राज्यवार प्रतिदिन मजदूरी की दर का राजपत्र में प्रकाशन कर दिया गया है।

मनरेगा के तहत काम करने वाले अकुशल हस्त कर्मकारों के लिए छत्तीसगढ़ के लिए 193 रुपये प्रतिदिन की मजदूरी तय की गई है। यह नई दर एक अप्रैल 2021 से प्रभावी हो चुकी है। चालू वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए 190 रुपये मजदूरी दर निर्धारित थी।

आगामी वित्तीय वर्ष के लिए इसमें तीन रुपये की बढ़ोतरी की गई है। लेकिन छत्तीसगढ़ के कई जिलों में अभी तक मनरेगा मजदूरों को नियमित रूप से मजदूरी का भुगतान नहीं हो रहा है और वे इसे पाने पंचायत अधिकारियों के चक्कर काट रहे हैं।

Posted By: anil.kurrey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags