बिलासपुर। ट्रेन में उतरने की हड़बड़ी में एक यात्री अपना कीमती मोबाइल बर्थ में छोड़ दिया। उसी समय आरपीएफ की स्कार्टिंग पार्टी पहुंची और मोबाइल का बर्थ पर रखा देख सबसे पहले यात्रियों से जानकारी ली। लेकिन कोई सामने नहीं आया। इस पर उन्हें माजरा समझ आ गया की कोई यात्री भूल गया। लिहाजा उसे अपने पास रख दिया। हालांकि उसी समय मोबाइल मालिक का काल आ गया। जिस पर उन्हें मोबाइल सुरक्षित होने की जानकारी दी गई और पोस्ट में आकर ले जाने के लिए कहा गया।

रेलवे सुरक्षा बल इन दिनों रेल संपत्ति के साथ- साथ यात्रियों की संपत्ति को गुम या चोरी होने से बचाने में अहम भूमिका निभा रही है। रेलवे सुरक्षा बल प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त एएन सिन्हा तथा वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त ऋषि कुमार शुक्ला के निर्देशन में रेलवे सुरक्षा बल लगातार यात्रियों की मदद कर रहा है। 12854 भोपाल-दुर्ग अमरकंटक एक्सप्रेस की अनुपपुर से बिलासपुर तक स्काटिंग के दौरान अनुपपुर स्टेशन से समय करीब 04.45 बजे ट्रेन रवाना होने के बाद कोच में जांच के दौरान कोच संख्या एस- 9 की बर्थ नंबर 61 मंे 14 हजार रुपये का कीमती मोबाइल नजर आया। मोबाइल के संबंध में पूछताछ की गई, लेकिन किसी ने जवाब नहीं दिया। पूछताछ चल ही रही थी कि उसी समय मोबाइल पर काल आया। उठाते ही काल करने वाले ने अपना नाम हाफिज इनायत हुसैन निवासी शहडोल बताया। वह नरसिंहपुर से अनुपपुर तक यात्रा कर रहे थे।

अनुपपुर में उतारने के समय बर्थ पर मोबाईल लेना भूल गए। इस पर आरपीएफ ने बताया कि उनका मोबाइल आरपीएफ पोस्ट के सुपुर्द कर दिया जाएगा। वह पहचान बताने के बाद मोबाइल ले जा सकते हैं। इस पर यात्र ने बताया कि बिलासपुर में परिचित है, उनको सुपुर्द करना है। समय करीब 18.00 बजे पोस्ट बिलासपुर में एक व्यक्ति आया और अपना नाम सचिन केशरवानी निवासी अभिषेक विहार मंगला बताया। पूरी जानकारी लेने और कागजी प्रक्रिया करने के बाद मोबाइल उनके सुपुर्द कर दिया गया।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close