बिलासपुर। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रतनपुर में अब मरीजों के उपचार के लिए अन्य स्वास्थ्य केंद्रों के ऊपर आश्रित होना पड़ रहा है। इसके कारण केंद्र में स्वास्थ्य कर्मी कम हो गए हैं।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रतनपुर शहर से लगभग 25 किलोमीटर दूर है। इसके चलते कर्मचारी बड़े अधिकारियों नेताओं से पहुंच का लाभ उठाते हुए ग्रामीण क्षेत्र की जगह शहर के अस्पतालों में अटैच करा रहे हैं। इसके कारण समुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों रतनपुर में स्टाफ की कमी हो चुकी है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रतनपुर को संचालित करने के लिए अब आसपास के स्वास्थ्य केंद्रों के कर्मचारियों को यहां संलग्न किया जा रहा है। कर्मचारी की कमी होने से मरीजों को समय पर इलाज नहीं हो पा रहा है। इसके कारण उन्हें और उनके स्वजन को परेशान होना पड़ रहा है।

उल्लेखनीय है कि स्वास्थ्य संचालक स्तर से भी लगातार आदेश निर्देश दिए गए कि अटैचमैंट समाप्त कर कर्मचारियों से मूल स्थान पर ही काम लिया जाए लेकिन बड़े पदों पर बैठे अधिकारियों ने ऐसा नहीं किया है। इसके कारण इस प्रकार की समस्याएं आ रही है। मुख्य कार्यालय में एक भी कर्मचारी अटैच नहीं होने की जानकारी नहीं दी जाती है। जबकि एक स्वास्थ्य केंद्र में समस्या के साथ अन्य स्वास्थ्य केंद्रों में भी अटैचमेंट के कारण समस्या खड़ी हो गई है। स्वास्थ्य विभाग ने कर्मचारियों को कोरोना ड्यूटी के नाम पर अटैच किए जाने से लोगों का उपचार प्रभावित हो रहा है। जबकि कोरोना ड्यूटी खत्म होने के बाद कर्मचारियों को यहां वापस नहीं भेज गया है। रतनपुर के ही स्वीकृत पद पर इनको बिना काम किए वेतन भी दिया जा रहा जबकि ये जिला अस्पातल, सीएमएचओ कार्यलय में संलग्न किए गए हैं।

प्रत्येक माह 70 से 90 डिलीवरी

रतनपुर स्वास्थ्य केंद्र की दो स्टाफ नर्स को मिलाकर आठ नर्स थी जिसमें दो मातृत्व शिशु अस्पताल, 100 बेड में अटैच है । तो वहीं दूसरी नर्स प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लिंगियाडीह में अटैच है। अब छह है। जबकि इनके ऊपर मरीजों की देखरेख सहित अस्सी से नब्बे डिलीवरी की जिम्मेदारी है। अटैच कर्मियों में शिप्रा जेनिफर स्टाफ नर्स समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से एमसीएच 100 बेड बिलासपुर,भानुप्रताप राठौर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से सीएमएचओ कार्यालय बिलासपुर, अजीता पांडेय सामुदायिक स्वास्थ्य से लिगयाडीह बिलासपुर, शिबू तिवारी चौकीदार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रतनपुर से जिला चिकित्सालय बिलासपुर, भारती साहू उप स्वास्थ्य केंद्र जाली से रानीगांव, परमेश्वर प्रसाद तिवारी सामुदायिक स्वास्थ्य से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कोटा किए गए हैं।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local