बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

पांचवीं अखिल भारतीय रेलवे स्कूल फुटबाल प्रतियोगिता 30 जून से होगी और समापन सात जुलाई को होगा। स्पर्धा में 16 टीमें हिस्सा लेंगी। यह प्रतियोगिता भारत में प्रसिद्घ अंतरराष्ट्रीय स्कूल फुटबॉल प्रतियोगिता सुब्रतो कप फुटबॉल टूर्नामेंट का ही एक हिस्सा है। इसका नाम भारतीय वायु सेना के एयर मार्शल सुब्रतो मुखर्जी के नाम पर रखा गया है। यह 1960 में शुरू हुआ था और तब से हर साल होता है।

डीआरएम कांफ्रेंस हॉल में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में डीआरएम व दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे खेल संघ के अध्यक्ष आर.राजगोपाल ने प्रतियोगिता के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि भारत के प्रत्येक राज्य में प्रारंभिक अंतर स्कूल टूर्नामेंट होते हैं। स्कूल की टीमें, राज्य अंतर स्कूल चैंपियनशिप जीतती हैं। फिर उन्हें दिल्ली में होने वाले मुख्य सुब्रतो मुखर्जी कप टूर्नामेंट में हिस्सा लेने के लिए आमंत्रित किया जाता है। प्रतियोगिता नॉक-आउट व लीग प्रणाली के आधार पर फुटबॉल एसोसिएशन से संबंधित कानूनों और नियमों के अनुसार खेली जाती है। इसे अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) की ओर से स्वीकार किया जाता है। कई विदेशी टीमें इंडोनेशिया, अफगानिस्तान, नेपाल,यूक्रेन, श्रीलंका भी चैंपियनशिप में भाग लेती हैं।

उन्होंने बताया कि इस प्रतियोगिता की मेजबानी दक्षिण पूर्व मध्य रेल्वे बिलासपुर को मिली है। प्रतियोगिता नॉर्थ ईस्ट इंस्टीट्यूट फुटबाल मैदान व सेकरसा मैदान में होगी। इसमें भारतीय रेलवे के प्रत्येक जोन के रेलवे स्कूल की टीमें हिस्सा लेंगी। टूर्नामेंट के समापन के तत्काल बाद हिस्सा लेने वाले सभी जोन में से सर्वश्रेष्ठ टीम के लिए खिलाड़ियों का चयन किया जाएगा और उनके प्रदर्शन के आधार पर चैंपियनशिप की तैयारी के लिए शिविर का लगाया जाएगा। सभी टीम को चार पूल में बांटकर लीग व नॉक आउट पद्घति से मैच होंगे। कुल 27 मैच होंगे। सेमीफाइनल और फाइनल मैच नॉर्थ ईस्ट इंस्टीट्यूट मैदान में होगा।

मिलेंगी सुविधाएं

डीआरएम ने बताया कि सभी खिलाड़ियों को स्वस्थ और स्वच्छ भोजन उपलब्ध कराया जाएगा। साथ ही उन्हें सर्वश्रेष्ठ आवास प्रदान करने की कोशिश होगी। चिकित्सा टीम को मैदान व आवास में भी नियुक्त किया जाएगा। यह चैंपियनशिप आगामी सभी टूर्नामेंटों के लिए एक नया आयाम स्थापित करेगी और शहर और बिलासपुर रेलवे जोन को गौरवान्वित करेगी।

Posted By: Nai Dunia News Network