बिलासपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)।Railway News Bilaspur: दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के नए प्रधान मुख्य चिकित्सा निदेशक डा. पीके सरदार ने पदभार ग्रहण कर लिया है। श्रमिक यूनियन के प्रतिनिधि ने मंडल ने उनसे मुलाकात की। इस दौरान जोन के तीनों मंडल बिलासपुर, रायपुर व नागपुर के रेलवे चिकित्सालयों की व्यवस्था सुधारने की मांग की। रेलकर्मियों की अन्य समस्याओं से भी उन्हें अवगत कराया। बिलासपुर जोन के तीनों रेल मंडल में चिकित्सा सुविधा दी गई। पर अस्पतालों में अभी कई कमियां है। जिसके चलते रेलकर्मी और उनके स्वजनों को दिक्कतें होती है। श्रमिक यूनियन ने बिंदुवार इन्हीं दिक्कतों को डा. सरदार के समक्ष रखा। शहडोल, पेंड्रा, ब्रजराजनगर में कार्यरत रेल कर्मचारी एवं उनके स्वजनों की चिकित्सा सुविधा के लिए निजी चिकित्सालय से अनुबंध की मांग भी की गई।

अपोलो अस्पताल बिलासपुर में न्यूरोलाजिस्ट एवं न्यूरो सर्जरी के लिए अनुबंध करने का मुद्दा उनके समक्ष रखा गया। प्रतिनिधि मंडल कोविड-19 की तीसरी लहर को ध्यान में रखते हुए बच्चों के बेहतर इलाज के लिए सर्वसुविधा युक्त वार्ड एव शिशुरोग विशेषज्ञ नियुक्ति , पैरामेडिकल स्टाफ, शिशु रोग से संबंधित सभी दवाइयां एवं मशीनों की व्यवस्था सुनिश्चित की मांग भी की।

केंद्रीय चिकित्सालय बिलासपुर में दंत चिकित्सालय के डाक्टर पद कुछ दिनों से खाली हैं इस पद की नियुक्ति शीघ्र करने की बात भी उन्होंने कही। प्रतिनिधि मंडल के मांगों को लेकर प्रधान मुख्य चिकित्सा निदेशक द्वारा शीघ्र पूरा करने का आश्वासन दिया।

इस अवसर पर श्रमिक यूनियन के उपाध्यक्ष एसएम जयप्रकाश, जोन प्रभारी संजय सिन्हा, सहायक महामंत्री एवं मंडल संयोजक सी नवीन कुमार, सहायक महामंत्री के अमर कुमार, एके मोहंती , मुख्यालय शाखा के अध्यक्ष संजय तिवारी, शाखा सचिव आशीष लाल , राघवेंद्र पांडेय समेत यूनियन के अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे।

Posted By: anil.kurrey

NaiDunia Local
NaiDunia Local