Railway News: बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। वंदे भारत ट्रेन में सफर करने वाले यात्री छत्तीसगढ़ी व्यंजनों का स्वाद चखेंगे। आइआरसीटीसी के जीजीएम ने क्षेत्रीय कार्यालय को मैन्यू में स्थानीय व्यंजनों को शामिल करने के निर्देश दिए हैं। इसके बाद क्षेत्रीय कार्यालय की टीम व्यंजनों की सूची तैयार करने में जुट गई है। कम से कम तीन छत्तीसगढ़ी व्यंजनों को मैन्यू में शामिल किया जाएगा।

वंदे भारत ट्रेन जल्द पटरी पर आने वाली है। इसके मद्देनजर तैयारी जोरों पर है। जोन का हर विभाग अपने-अपने स्तर पर काम कर रहा है। इस बीच खानपान की जिम्मेदारी आइआरसीटीसी को सौंपी गई है। इसी सिलसिले में सिंकदराबाद से आइआरसीटीसी के जीजीएम बिलासपुर आए थे। उन्होंने सीसीएम से चर्चा की। हालांकि इस बैठक में मैन्यू तय नहीं हो सका है। दो से तीन दिन के भीतर इसे फाइनल भी कर लिया जाएगा। सीसीएम से चर्चा करने के बाद जीजीएम ने क्षेत्रीय कार्यालय के अधिकारी व कर्मचारियों की बैठक ली। इसमें दोबारा मैन्यू को लेकर चर्चा की गई। इसमें उन्होंने कहा कि मैन्यू में यदि स्थानीय व्यंजनों को शामिल किया जाता है तो यात्रियों को नई ट्रेन में नया अनुभव मिलेगा। यह भी उनके खास होगा और यात्री इस सुविधा को पसंद करेंगे।

आदेश मिलने के बाद बिलासपुर स्थित क्षेत्रीय कार्यालय की टीम छत्तीसगढ़ी व्यंजनों की जानकारी ले रही है। इसमें सूची भी बनाई जा रही है। इस सूची को सिकंदराबाद जोन कार्यालय भेजा जाएगा। वहां से सहमति मिलने के बाद दक्षिण्ा पूर्व मध्य रेलवे जोन कार्यालय को भेजी जाएगी। यहां से स्वीकृति मिलने के बाद निर्धारित मैन्यू के मुताबिक यात्रियों को खानपान की सुविधा मिलेगी। मैन्यू के साथ-साथ व्यंजनों कीमत भी निर्धारित की जाएगी। हालांकि इसमें कुछ समय लगेगा पर उम्मीद है कि यात्री इन व्यंजनों का स्वाद चख पाएंगे। मालूम हो कि इस ट्रेन की संभावित समय-सारिणी पर ही मुहर लगती है तो यात्रियों को चाय-नाश्ते के अलावा भोजन भी परोसना होगा। इसका शुल्क टिकट में ही जुड़ा होगा।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close