बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

डिप्रेशन में आने के बाद अक्सर लोग शराब पीते हैं या फिर छोड़ने के बाद अचानक फिर से पीना शुरू कर देते हैं। इसका कारण जानने के लिए गुरु घासीदास केंद्रीय विश्वविद्यालय के फार्मेसी विभाग में शोध चल रहा है। शोध में मानव मस्तिष्क पर प्रभाव का अध्ययन के लिए चूहों पर प्रयोग किया गया। इसमें प्रारंभिक चरण में पता चला है कि क्रोनिक ट्रीटमेंट रोकने से दोबारा इथनॉल प्रभाव दिखाता है।

प्राकृतिक संसाधन अध्ययनशाला के अंतर्गत फार्मेसी विभाग में एल्कोहल के मस्तिष्क पर प्रभाव का अध्ययन किया जा रहा है। सीएसआइआर रिसर्च फैलो लोकेश वर्मा इस विषय पर शोध कर रहे हैं। उनके शोध निर्देशक डॉ. निशांत जैन हैं। शोध में ईथनॉल या एल्कोहल मस्तिष्क पर जो प्रभाव डालता है जैसे एंटीडिप्रेसेन्ट, एंटीएन्जायटी, एनाल्जेसिक, एन्टीकम्पल्सिव और लोकोमीटर स्टिम्यूलेशन शामिल है। डॉ. निशांत ने बताया कि इन प्रभावों में मस्तिष्क के कई केमिकल्स यानि न्येरोट्रांसमीटर की भूमिका हो सकती है। हालांकि दुनिया भर में किए गए शोध से यह पता लगा है कि ईथनॉल पीने से मस्तिष्क में एक महत्वपूर्ण न्यूरोट्रांसमीटर हिस्टामिन की मात्रा बढ़ती है। वहीं हिस्टामिन ईथनॉल का मस्तिष्क पर ऊपरी प्रभाव अभी भी शोध का विषय है। इसका पता लगाने के लिए चूहों पर प्रयोग किया गया। शोध से यह भी पता चला कि लगातार दस दिनों तक अगर चूहों को ईथनॉल दिया जाए तो ईथनॉल के एक्यूट प्रभावोंमेटॉलरेन्स आता है और यदि क्रोनिक ट्रीटमेंट रोक दी जाए तो चूहों में ईथनॉल विड्राल के प्रभाव दिखाई देते हैं। जैसे कि बढ़ा हुआ डिप्रेशन, एन्जाइटी, कम्पल्शन और हाइपरनोसिसेप्शन(पेन को सहने की शक्ति कम होना) यही प्रभाव इंसान को ईथनॉल छोड़ते समय प्रभावित करते हैं। इसीलिए वे उसे फिर पीना शुरू कर देते हैं।

रिसर्च फैलो लोकेश वर्मा एल्कोहल के मस्तिष्क पर प्रभाव पर अध्ययन कर रहे हैं। इसमें उन्होंने पता लगाया है कि चूहों को ईथनॉल दिया जाए तो ईथनॉल के एक्यूट प्रभावोंमेटॉलरेन्स आता है और यदि क्रोनिक ट्रीटमेंट रोक दी जाए तो चूहों में ईथनॉल विड्राल के प्रभाव दिखाई देते हैं।

डॉ निशांत जैन, शोध निर्देशक

गुरु घासीदास केंद्रीय विवि

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना