बिलासपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। रेलवे स्टेशनों में उपलब्ध आटोमेटिक टिकट वेंडिंग मशीन(एटीवीएम) से टिकट लेने में यात्रियों को अब परेशानी नहीं होगी। रेल प्रशासन यात्रियों की सुविधा के लिए इन मशीनों में सेवानिवृत्त रेल कर्मचारियों की नियुक्ति कर रहा है। इनकी मौजूदगी से यात्री आसानी से टिकट प्राप्त कर सकते हैं। उन्हें काउंटर के सामने कतार में खड़े होने की आवश्यकता नहीं है।

रेलवे के जनरल टिकट काउंटरों में टिकट लेने के लिए यात्रियों की कतार लगी रहती है। इसी भीड़ के कारण कई बार यात्रियों का नंबर तब आता है, जब ट्रेन छूट जाती है। इसी समस्या का विकल्प टिकट वेंडिंग मशीन रूप में सामने लाया गया है। यात्रियों को शीघ्र टिकट उपलब्ध कराने एवं टिकटिंग प्रणाली को गतिशील बनाने के उद्देश्य से बिलासपुर रेल मंडल के 20 स्टेशनों में एटीवीएम की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। एटीवीएम के माध्यम से यात्रियों को बिना लाइन में लगे त्वरित अनारक्षित व प्लेटफार्म टिकट खरीदने की सुविधा मिलती है। इस मशीन से अनारक्षित टिकट लेने में मदद करने के लिए अब सेवानिवृत्त रेलकर्मियों को फैसिलिटेटर के तौर पर नियुक्त किया जा रहा है।

इच्छुक सेवानिवृत्त रेलकर्मी इसके लिए आवेदन कर सकते हैं। इस संबंध में जानकारी के लिए संबंधित स्टेशन के स्टेशन प्रबंधक, वाणिज्य पर्यवेक्षक/निरीक्षक से संपर्क किया जा सकता है। आवेदन स्वयं वाणिज्य कार्यालय आकर जमा करना होगा। फैसिलिटेटर की नियुक्ति 31 मार्च 2023 तक के लिए की जाएगी। नियुक्त फैसिलिटेटर को वाणिज्य विभाग की तरफ से एक पहचान पत्र जारी किया जाएगा। इस पहचान पत्र के आधार पर ही कर्मचारी फैसिलिटेटर के तौर पर काम कर सकेंगे। मालूम हो कि अधिकांश यात्रियों को इस मशीन से टिकट निकालना नहीं आता। ऐसे यात्रियों को सेवानिवृत्त कर्मचारी टिकट निकालकर देंगे। इसके बदले में उन्हें प्रति टिकट कमीशन भी देने का प्रविधान है।

जानिए स्टेशन और वहां कितने सेवानिवृत्त रेलकर्मी रहेंगे तैनात

स्टेशन --- सेवानिवृत्त कर्मचारियों की संख्या

रायगढ़ --- 05

अनूपपुर --- 01

अकलतरा --- 02

जांजगीर-नैला --- 03

पेंड्रारोड --- 03

खरसिया --- 03

उमरिया --- 03

कोतमा --- 03

सक्ती --- 03

बुढ़ार --- 03

बाराद्वार --- 03

उसलापुर --- 01

अंबिकापुर --- 02

ब्रजराजनगर --- 03

बेलपहाड़ --- 03

चांपा --- 02

शहडोल --- 01

कोरबा --- 02

करगी रोड --- 03

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close