Road Accident Bilaspur: बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। शनिवार की रात रतनपुर क्षेत्र के पोड़ी में तेज रफ्तार कार सड़क किनारे पेड़ से जा टकराई। दुर्घटना के बाद कार में आग लग गई। कार में फंसी युवती समेत तीन लोग जिंदा जल गए। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया है।

रिसार्ट जा रहे थे तीनों

गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले के राजपुर में रहने वाले शाहनवाज खान उर्फ समीर बिलासपुर के रिंग रोड नंबर दो स्थित पल्लव भवन के पास रहते थे। शनिवार की देर रात वे अपने दोस्त अभिषेक कुर्रे(25) निवासी वसुंधरा नगर व याशिका मनहर(22) निवासी भदरापारा बालको नगर जिला कोरबा के साथ कोटा क्षेत्र के पचरा स्थित रिसार्ट जाने के लिए निकले थे।

आसपास के लोगों ने की बचाने की कोशिश

उनकी कार रतनपुर और खैरा के बीच ग्राम पोड़ी के पास पहुंची थी। इसी दौरान अनियंत्रित कार सड़क से उतरकर पेड़ से जा टकराई। हादसे के बाद कार में आग लग गई। कार में फंसे लोगों को आसपास के लोगों ने बचाने की कोशिश की। इसमें ग्रामीण असफल रहे। वहीं, हादसे की जानकारी पुलिस को भी दी गई। पुलिस के पहुंचने से पहले ही कार सवार तीनों लोग जिंदा जल गए थे।

कार नंबर के जरिए हुई पहचान

पुलिस ने आग बुझाने के बाद मरने वालों की पहचान शुरू कर दी। कार नंबर के आधार पर शाहनवाज के स्वजन को इसकी जानकारी दी गई। इसके बाद शाहनवाज के स्वजन और परिचित मौके पर पहुंचे। कार में मिले चेन और अंगूठियों से उसकी पहचान हुई। इसके बाद अन्य लोगों की पहचान हुई।

कंकाल को निकालकर भेजा पीएम के लिए

हादसे के बाद तीनों शव पूरी तरह से जल गए थे। ड्राइविंग सीट के पास मिले कंकाल से शाहनवाज की चेन और अंगूठियां मिली। वहीं, उसके बगल में याशिका के सामान मिले। कार के पीछे सीट में अभिषेक की घड़ी और कड़ा मिला है। इसके आधार पर शव की पहचान की गई है। हादसे के बाद तीनों स्वजन मौके पर पहुंच गए थे।

कार में एक और युवती के होने की आशंका

हादसे के बाद पहुंची पुलिस ने मृतकों की पहचान शुरू कर दी। इस बीच शाहनवाज की पहचान स्वजन ने की। इसके बाद जांच में पता चला कि कार में अभिषेक और याशिका के साथ ही कोरबा जिले की एक और युवती थी। उसका मोबाइल सुबह से बंद आ रहा है। कार में केवल तीन कंकाल मिले हैं। इसके आधार पर चौथी युवती के स्वजन भी मौके पर पहुंच गए हैं।

Posted By: Manoj Kumar Tiwari

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close