बिलासपुर। कोरोना संक्रमण के कारण आमजन आर्थिक संकट से जूझ रहा है। इसका असर शिक्षा के क्षेत्र पर भी पड़ा है। निजी स्कूल संचालकों के साथ पालकों की आर्थिक स्थिति खराब है। इसके चलते हर साल 10-15 स्कूल बंद हो रहे हैं। साल 2021-22 में 15 स्कूलों में ताले लग गए। वहीं तीन साल के आंकड़े पर नजर डालेें तो 45 स्कूल बंद हुए हैं। कोरोना महामारी के चलते पालकों को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है। कई लोग बच्चों की स्कूल फीस भी नहीं भर पा रहे हैं।

इस कारण संचालकों के लिए शिक्षकों व कर्मचारियों को वेतन देना मुश्किल हो गया है। ऐसे में स्टाफ नौकरी छोड़कर दूसरा काम करने लगा है। दूसरी ओर कमर्शियल, प्रापर्टी टैक्स, बिजली, पानी, वेतन व अन्य प्रकार के खर्च कम नहीं हुए हैं। इतने खर्च को संचालक वहन नहीं कर पा रहे हैं। आर्थिक तंगी और स्टाफ की कमी के कारण स्कूल बंद हो रहे हैं। स्कूल शिक्षा विभाग को ऐसे स्कूल लगातार सूचना भेज रहे हैं। वहीं, फीस जमा नहीं करने के कारण कई बच्चे पढ़ाई छोड़ चुके हैं। कई सरकारी स्कूलों में ताखिला ले रहे हैं।

यह भी पढ़ें:साइबर सुरक्षा को लेकर हाई कोर्ट भी गंभीर,अपराध रोकने चलेगी मुहिम

कई स्कूल बंद होने की तैयारी में

जिले के कई स्कूल अभी भी आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं। कुछ संचालक विभाग को सूचना देकर बंद कर रहे हैं। कुछ स्कूलों को अगले साल बंद करने की तैयारी है। बच्चों की कमी के कारण संचालक स्कूल का खर्च वहन नहीं कर पा रहे थे। बच्चों को पढ़ाने वाले शिक्षकों को वेतन देने में कठिनाई आ रही थी। बंद स्कूलों के बच्चों को अभिभावकों कम फीस वाले स्कूलों में प्रवेश दिला रहे हैं।

इस साल बंद हुए स्कूल

पीएलएस स्कूल कर्मा, देव संस्कृति विद्यालय कोनी, यूनिक पब्लिक स्कूल अमसेना, ललित श्याम हाईस्कूल नवाडीह सीपत, वेंकटेश विद्या मंदिर रतनपुर, आशेतोष पब्लिक स्कूल गुड़ी सीपत, द इंडियन पब्लिक स्कूल भरारी, साईं होली इलेमेंट्री स्कूल टिकरापारा बिलासपुर, विमल रेणुका इंग्लिश मीडियम स्कूल प्राथमिक शाला बेलतरा, समीर बाल मंदिर स्कूल तिलकनगर बिलासपुर, जेएस मेमोरियल स्कूल बिलासपुर, आरएस नर्सरी इंग्लिश मीडियम स्कूल राजकिशोर नगर, राज इंग्लिश मीडियम हायर सेकंडरी स्कूल श्रीकांत वर्मा मार्ग फेस-2, युवा जागृृति समिति भरारी, ज्ञान दीप उच्चतर माध्यमिक विद्यालय खपरी तखतपुर।

हर साल हो रहे बंद

साल स्कूल बंद

2019-20 12

2020-21 18

2021-22 15

कुछ निजी स्कूलों को बंद करने के लिए संचालक आवेदन दे रहे हैं। बंद करने के कारण नहीं बता रहे हैं। वहां पढ़ने वाले बच्चे अपनी मर्जी से अन्य स्कूलों में प्रवेश लेंगे।

डीके कौशिक, डीईओ बिलासपुर।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close