बिलासपुर। बिलासपुर एसईसीएल के सीएमडी डा. प्रेम सागर मिश्रा को कोयला उद्योग में उत्कृष्ट नेतृत्व शक्ति के लिए इंस्टिट्यूट आफ इकोनामिक स्टडीज नई दिल्ली द्वारा प्रतिष्ठित उद्योग रत्न अवार्ड से सम्मानित किया है। गुस्र्वार को नई दिल्ली में आयोजित समारोह में दिल्ली राज्य के राज्यपाल प्रो जगदीश मुखी ने अवार्ड प्रदान किया। इंस्टिट्यूट आफ इकोनोमिक स्टडीज संस्थान जन जागरुकता की दिशा में काम करने वाला देश का प्रीमियर गैर लाभकारी संगठन है।

सीएमडी प्रेम सागर मिश्रा बिलासपुर एसईसीएल कार्यालय में पद ग्रहण करने के बाद कोयला उत्पादन में लगातार बेहतर काम करते आ रहे हैं। कोयला डिस्पैच के मामले में एसईसीएल ने 36 दिन ही पहले ही लक्ष्य को हासिल कर कीर्तिमान रचा है। इस वर्ष कोल कंपनी ने वित्तीय वर्ष के 36 दिन पहीले ही 138.99 मिलियन टन कोयला डिस्पैच कर लिया है। खदानों में कार्य की गति तेज की गई। एसईसीएल के सीएमडी का पदभार ग्रहण करने के बाद डा. पीएस मिश्रा लगातार खदानों का दौरा कर रहे हैं और कोल आपूर्ति को नियमित बनाए रखने पर जोर दे रहे हैं।

कोयला डिसपैच में आ रही तकनीकी व व्यवहारिक दिक्कतों को दूर करने आला अफसरों से लगातार चर्चा भी कर रहे हैं। एसईसीएल विभाग में लगातार कोयला उत्पादन में तेजी से काम चल रहा है। ताकि किसी भी जगह कोयला आपूर्ति की कमी न आए। पावर कंपनियों में बिजली उत्पादन पर कोई प्रभाव न पड़े। इसके साथ ही एसईसीएल प्रबंधन जनकल्याणकारी योजना भी संचालित कर रहे हैं।

सर्वश्रेष्ठ सीईओ से सम्मानित हो चुके हैं

इकोनामिक्स टाइम्स के सहयोग से एचआरडी इण्डिया ने ईसीएल के सीएमडी प्रेम सागर मिश्रा को मानव संसाधन अनुकूलन में वर्ष का सर्वश्रेष्ठ सीईओ घोषित करते हुए शील्ड व प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया है। एचआरडी इण्डिया मानव संसाधन समाधान वाली एकीकृत व प्रतिष्ठित संगठन है, जो भारत में बहुप्रतिष्ठित कंपनियों को मानव संसाधन विकास व प्रबंधन समेत इससे संबंधित आवश्यक समाधान प्रदान करती है।

Posted By: Abrak Akrosh

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close