बिलासपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। नवरात्र 26 सितंबर से प्रारंभ हो रहा है। माता के भक्तों को इस दिन का इसका बेसब्री से इंतजार रहता है। नौ दिनों का व्रत और उसमें फलाहार का विशेष महत्व है। ऐसे में साबूदाना व ड्रायफु्रट्स फलाहार मिल जाए तो क्या कहना। नवरात्र के दिनों में सिरगिट्टी बन्नाक चौक निवासी अंजनी कुमार श्रीवास्तव व्रतियों के लिए खास तौर पर इसे तैयार करवाते हैं। जिसके लेने भक्त टूट पड़ते हैं।

अंजनी जी ऐसे तो पुराना बस स्टैंड स्थित रायल स्वीट्स में नवरात्र के दौरान खास छेने की मिठाइयां लाते हैं, लेकिन लोगों को इस नवरात्र में उनके द्वारा फलाहार का बेसब्री से इंतजार रहता है। जिस प्रकार हम हर दिन जीवन के लिए आहार के रूप में भोजन लेते हैं, उसी प्रकार शरीर में विद्यमान विद्युत-शक्ति यानी अपने मेटाबालिज्म को भी रिचार्ज करने की जरूरत पड़ती है । जब हम अनाज के रूप में भोजन लेते हैं, तो शरीर के रसायनों को उसे सुपाच्य बनाने के लिए मशक्त करनी पड़ती है।

समय-समय पर इस प्रक्रिया को विश्राम देने की भी आवश्यकता पड़ती है। लिहाजा इस अवधि में कुछ लोग तो दूध, दही, या साबूदाना, ड्रायफु्रट्स फलाहार का सेवन करते हैं, तो कुछ सिर्फ जल और वायु पीकर आंतरिक तंत्र को सशक्त करते हैं। लेकिन ज्यादातर व्रती अब साबूदाना, ड्रायफु्रट्स लेना अधिक पसंद करते हैं। यही कारण है कि इन दिनों दुकान में स्वाद से भरपूर साबूदाना फलाहार रखा जाता है,जिसे शुद्धता के साथ बनाया जाता है।

होटल व रेस्टारेंट में खास आर्डर

नवरात्र में फलाहा को लेकर स्थिति यह है कि होटल और रेस्टारेंट अब विशेष फलाहारी थाली सजाई जाती है। इसके अलावा रेस्टारेंट में पैकेजिंग फलाहार भी आ गया है। इसके अलावा कई लोग रेसिपी के जरिए घरों में इसे बनाते हैं। बड़ों के साथ बच्चे भी इसे खूब पसंद करते हैं। नवरात्र में फलाहार का विशेष महत्व है।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close