बिलासपुर। Bilaspur Railway News: भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (आइआरसीटीसी) 31 मार्च को भारत दर्शन ट्रेन चलाने जा रही है। वाराणसी, प्रयागराज, अयोध्या व माता वैष्णो देवी दर्शन कराने चलाई जा रही इस ट्रेन में बुकिंग की गति बेहद धीमी है। इस स्थिति आइआरसीटीसी की चिंता बढ़ा दी है। अब पूरा अमला इसके प्रचार- प्रसार में जुटा हुआ है।

आइआरसीटीसी एक साल बाद भारत दर्शन ट्रेन चला रही है। इसका जब निर्णय हुआ तब आइआरसीटीसी को पूरी उम्मीद थी कि लोग कोरोना की वजह से सालभर कही घूमने नहीं गए है। ऐसे में इस पहल का लाभ मिलेगा। पर अभी जो स्थिति है उसे लेकर आइआरसीटीसी चिंतित है और अधिक से अधिक बुकिंग के लिए कमर भी कस ली है। उनकी टीम जोन के अलग- अलग शहरों में जाकर प्रचार- प्रसार कर रही है। जिससे कम से कम 50 प्रतिशत बर्थ की बुकिंग हो जाए।

वर्तमान में बुकिंग का आंकड़ा 100 है, जबकि इस ट्रेन में 836 बर्थ उपलब्ध है। यह आंकड़ा स्लीपर व एसी कोच को मिलाकर है। मसलन इस ट्रेन में 835 यात्री सफर कर सकते हैं। ब्रोशर तैयार का बांटे जा रहे हैं। स्लीपर कोच में बुकिंग कराने पर 9030 रुपये और एसी के लिए 10 हजार 920 रुपये का पैकेज तैयार किया गया है। संबंधित स्टेशनों तक पहुंचने के बाद तीर्थ स्थल लेकर जाने नानएसी बस और धर्मशाला के अलावा भोजन व नाश्ते की सुविधा भी इस पैकेज में शामिल है।

वर्जन

50 प्रतिशत बुकिंग में चला देंगे ट्रेन

आइआरसीटीसी के एरिया मैनेजर एसजे सोरेन का कहना है कि अभी बुकिंग कम हुई है। प्रयास किया जा रहा है कि कम से कम 50 प्रतिशत सीटों की बुकिंग हो जाए। इतने में भारत दर्शन ट्रेन चलाई जा सकती है।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local