बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

छत्तीसगढ़ माटी कला बोर्ड की ओर से राघवेंद्र राव सभा भवन में लगी मृदा शिल्प प्रदर्शनी में सभी के लिए मिट्टी से बनी ज्वेलरी आकर्षण का केंद्र बनी हुई है। इसमें विशेष रूप से टेंपल ज्वेलरी, मिट्टी से बने रुद्राक्ष, मोती की माला, गणेश व लक्ष्मी से सजे हार और मोहर हार समेत झुमके देखते ही बन रहे हैं।

प्रदर्शनी में पेंड्रा की अनिता सारीवान के हाथों निर्मित मिट्टी के गहने खास हैं। उन्होंने बताया कि समय के साथ इनमें भी अलग-अलग डिजाइन बनाते हैं। वहीं रंगों का तालमेल भी बैठाते हैं। उन्हें एक नजर में पहचानना मुश्किल होता है कि ये मिट्टी से बने हैं। साथ ही दीपावली को देखते हुए मिट्टी के डेकोरेटिव दीया भी लोगों के बीच आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। इसमें कई आकार और डिजाइन देखते ही बन रहे हैं।