बिलासपुर। Bilaspur News: माल ढुलाई को प्रोत्साहित करते हुए रेलवे की आय बढ़ाने के लिए बनाई गई बिजनेस डेवलमेंट यूनिट का फायदा मिला है। इस यूनिट के माध्यम से रेलवे ने लगभग 130 करोड़ की कमाई की है। साथ ही 350 रैक लदान किया गया है। यूनिट में शामिल अधिकारी व कर्मचारी फैक्ट्री, बड़ी कंपनियों के अलावा छोटे व्यापारियों से मिलकर उन्हें रेलवे से माल परिवहन के लिए प्रोत्साहित कर दी जाने वाली विशेष छूट की जानकारी भी दे रहे हैं।

यूनिट गठन के बाद मिले बेहतर रिस्पांस को देखते हुए इसे आगे अस्तित्व में रखने का निर्णय लिया गया है। यह मुख्यालय स्तर पर मुख्य माल यातायात प्रबंधक एंव मंडल स्तर पर वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक के नेतृत्व में कार्य कर रही है। इसका गठन भारतीय रेलवे के सभी जोन में हुआ है। जिसमें दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन भी शामिल है। इससे माल ढुलाई में वृद्वि के साथ रेलवे की आय में बढोत्तरी होगी।

इसके अलावा उद्योग जगत के माध्यम से देश की जनता को रेलवे के द्वारा माल परिवहन में दिए जा रहे रियायतों का लाभ मिलेगा। कोरोना के कारण ट्रेनों के परिचालन बंद होने से रेलवे की आर्थिक स्थिति कमजोर हुई थी। इस संकट की घडी को अवसर में बदलते हुए लदान पर पूरा फोकस देते हुए नए— नए उपाय अपनाए गए। यूनिट का गठन भी इसी के तहत हुआ है।

इन सामान का लदान

यूनिट के माध्यम से जिन वस्तुओं का लदान मालगाडी से किया गया। उनमें प्रमुख रूप से लौह अयस्क, सीमेंट क्लिंकर, क्वारटाइज, स्टील, फ्लाई एश, खंडा चावल, शक्कर, स्लैग, चुना पत्थर शामिल है। फ्लाई एश की ज्यादातर लोडिंग नागपुर और सीमेंट रायपुर मंडल से हुई है।

Posted By: anil.kurrey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस