बिलासपुर। चौकसे इंजीनियरिंग कालेज की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई और दी विजडम ट्री फाउंडेशन ने स्वच्छ भारत अभियान एवं आजादी के अमृत महोत्सव के तहत अरपा नदी पर स्थिति एशिया का सबसे बड़े छठ घाट की साफ - सफाई की जिम्मेदारी ली गई। साथ ही अरपा नदी को प्रदूषण मुक्त करने के लिए अपने स्तर पर प्रयास करने का संकल्प सभी छात्र - छात्राएं ने लिया।

राष्ट्रीय सेवा योजना एवं दी विजडम ट्री फाउंडेशन के 125 स्वयंसेवकों ने अपनी सेवाएं दीं। मुख्य अतिथि के रूप में छात्र - छात्राओं को संबोधित करते हुए बेलतरा विधायक रजनीश सिंह ने कहा कि अभी भी वक्त रहते हुए हम पर्यावरण संरक्षण के लिए सजग नहीं हुए तो वह दिन दूर नहीं जब सभी को एक जेब में पानी का बोतल एवं दूसरे पॉकेट में आक्सीजन की बाटल रखनी पड़ेगी। इस अवसर पर दी विजडम ट्री फाउंडेशन की संस्थापिका एवं चौकसे ग्रुप आफ कॉलेजेस की निदेशक डाक्टर पलक जायसवाल ने राष्ट्रीय सेवा योजना के इस पहल की प्रशंसा की।

कार्यक्रम में चौकसे इंजीनियरिंग कॉलेज के ओएसडी शरद कुमार कौशिक, उच्चभट्ठी के सरपंच नारायण साहू , रामबिलास शर्मा, कार्यक्रम अधिकारी डाक्टर बरुण कुमार यादव, उषा जायसवाल के साथ राष्ट्रीय सेवा योजना के अध्यक्ष तरूण सोनी व अन्य नागरिक एवं बड़ी संख्या में उपस्थित थे। इस दौरान छात्र छात्राओं ने पूरे छठ घाट की सफाई कर जागरूकता बोर्ड लगाया। ताकि लोग भी यहां गंदगी न फैलाएं। साथ ही हर माह आकर सफाई करने का निर्णय लिया गया है। इस सफाई अभियान में लोगों को भी जोड़ा जाएगा।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local