बिलासपुर। रेलवे परिक्षेत्र में अब आपराधिक गतिविधियों पर पूरी तरह नजर रहेगी। सुरक्षा के मद्देनजर परिक्षेत्र में 80 कैमरे लगाए गए हैं। हालांकि रेलवे एसएंडटी (सिग्नल एंड टेलीकाम) विभाग द्वारा इसे आरपीएफ को हैंडओवर नहीं किया गया। अभी कुछ दिन विभाग जांच करेगा और जहां-जहां छुटपुट कमियां सामने आएंगी, उसे दूर किया जाएगा। कैमरे के लिए जगह चिंहित करने से पहले एसएंडटी विभाग द्वारा रेलवे सुरक्षा बल को सर्वे कर रिपोर्ट मांगी थी। उन्होंने जो जगह उपलब्ध कराई है वहां कैमरे लगाए गए हैं। इनमें जोन व मंडल कार्यालय के अलावा प्रमुख चौक-चौराहे शामिल हैं। करीब 80 कैमरे से परिक्षेत्र में निगरानी हो रही है।

यह रेल प्रशासन की बड़ी पहल है। दरअसल रेलवे का क्षेत्र काफी बड़े दायरे में फैला हुआ है। अफसरों के बंगलों के अलावा स्टाफ क्वार्टर और कई विभाग ऐसे हैं, जिनमें महंगे उपकरण कार्यालय परिसर या सामने रखे रहते हैं। रेल संपत्ति की सुरक्षा की जिम्मेदारी आरपीएफ की है। यही वजह है कि अलग से सेटलमेंट पोस्ट बनाया गया है। यहां प्रभारी से लेकर उप निरीक्षक, सहायक निरीक्षक व बल सदस्यों को पदस्थ किया गया। यह अमला प्रतिदिन गश्त भी करता है। लेकिन तमाम उपायों के बावजूद चोर हाथ साफ करने में सफल हो जाते हैं। यात्री, रेल कर्मचारी समेत सामान्य लोग भी शिकार बन चुके हैं। रेल संपत्ति चोरी कई घटनाएं भी हुई हैं। इस पर रोक लगने की उम्मीद है।

ये हैं प्रमुख स्थल, जहां लगे हैं कैमरे

0 जोन कार्यालय परिसर व बाहर

0 डीआरएम कार्यालय परिसर व बाहर

0 तितली चौक

0 बुधवारी बाजार

0 जोनल स्टेशन चौक

0 चुचुहियापारा मार्ग

साइबर सेल से हो रही मानिटरिंग

इन 80 कैमरों में कैद होने वाली गतिविधियों को देखने के लिए एक मानिटरिंग कक्ष बनाया गया है। हालांकि अभी यह कक्ष आरपीएफ के साइबर सेल में बनाया गया है। चूंकि अभी एसएंडटी विभाग ने हैंडओवर नहीं किया है, इसलिए किसी भी बल सदस्य को तैनात नहीं किया जा रहा है। पर हैंडओवर के बाद 24 घंटे एक स्टाफ की ड्यूटी लगाई जाएगी। बाद में साइबर सेल में लगी बड़ी स्क्रीन सेटलमेंट पोस्ट में लगेगी।

रेलवे परिक्षेत्र में 80 कैमरे लगाने का काम हो चुका है। इन कैमरों से परिक्षेत्र के चप्पे-चप्पे की निगरानी की जा सकेगी। सबसे बड़ी बात यह है कि कैमरों की मदद से अपराधी की पहचान करने में मदद मिलेगी।

आरके शुक्ला

वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त, बिलासपुर रेल मंडल

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close