बिलासपुर। नईदुनिया प्रतिनिधि। स्वास्थ्य विभाग ने डायरिया की आशंका को लेकर सर्वे शुरू दिया है। मालूम हो कि वर्षा ऋतु में हर बार शहर के कई क्षेत्रों में डायरिया का प्रकोप देखने को मिलता है। ऐसे में डायरिया फैलने से रोकने के लिए सर्वे शुरू कर दिया गया है।

स्वास्थ्य विभाग डायरिया उन्मूलन पखवाड़ा के तहत काम रह रही है। इसके तहत शहर के मलिन क्षेत्र के साथ ऐसे मोहल्ले जहां हर बार डायरिया के मरीज मिलते है, वहां पर सर्वे कार्य शुरू कर दिया गया है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग के स्वास्थ्य कार्यकर्ता और क्षेत्र की मितानिनों के द्वारा घर-घर सर्वे किया जा रहा है और डायरिया के संभावित मरीज खोजे जा रहे और आवश्यक दवाओं का वितरण किया जा रहा है। सर्वे के तहत शहर अंतर्गत तालापारा, तारबाहर, टिकरापारा, सिरगिट्टी, हेमूनगर, अटल आवास, तिफरा आदि क्षेत्रों में सर्वे किया जा रहा है।

स्वास्थ्य विभाग की मंशा है कि यदि कही भी डायरिया फैलने की आशंका बन रही है तो उसे खत्म किया जा सके, ताकि इसके गंभीर परिणाम सामने न आए। इसके तहत सात जून तक सर्वे चलेगा और टीम हर घर पहुंचकर डायरिया के मरीज खोजने का काम करेगी।

तालापारा है बेहद संवेदनशील

डायरिया को लेकर तालापारा क्षेत्र को बेहद संवेदनशील की सूची में रखा गया है। पिछले साल यहां पर दूषित पानी पीने की वजह से डायरिया फैला था। लगभग 400 से ज्यादा लोग डायरिया से संक्रमित हुए थे और छह की मौत हुई थी। इन बातों को ध्यान में रखकर तालापारा क्षेत्र में विशेष अभियान चलाया जा रहा है और डायरिया को लेकर लोगों को जागरूक करने का काम किया जा रहा है।

ऐसे बचे डायरिया से

- बाहर के भोजन का सेवन न करे।

- साफ व स्वच्छ पानी का सेवन करे।

- हो सके तो पानी को उबालकर पिए।

- उल्टी, दस्त की समस्या हो तो तत्काल डाक्टर से परामर्श ले।

- गंदगी वाले जगहों से बचे और साफ सफाई पर ध्यान दे।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close