बिलासपुर। आज न्याय के देवता भगवान शनिदेव का दिन है। उन्हें प्रसन्न करने और अपनी आस्था प्रकट करने के लिए उनके भक्तों की कतार भोर से ही चिल्हाटी स्थि​त मंदिर में लगने लगी थी। पूरे दिन यहां आस्थावान पहुंचेंगे और भगवान शनिदेव को तेलाभिषेक करेंगे।

ज्योतिषाचार्य पंडित मनोज तिवारी का कहना है कि भगवान शनिदेव के पूजन के लिए शनिवार का दिन महत्वपूर्ण होता है। शनिदेव की पूजा के लिए आषाढ़ महीने को अति उत्तम माना गया है। मान्यता है कि आषाढ़ मास में नियम व अनुशासन का पालन करने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं और जातकों को शुभ फल प्रदान करते हैं।

आज का दिन शनिवार है। मान्यता है कि शनिवार के दिन शनि मंदिर में शनि चालीसा का पाठ करना चाहिए। पीपल के पेड़ में जल अर्पित करने के साथ ही सरसों के तेल का दीपक जलाना चाहिए। शनि से जुड़ी चीजों का दान करना चाहिए।

आषाढ़ मास में काला छाता दान करना सबसे उत्तम माना गया है। शनिदोष के प्रभाव को कम करने व शनिदेव की कृपा पाने के लिए आषाढ़ मास के शनिवार को विशेष संयोग बन रहे हैं। वही बता दे कि जिन्हें शनि दोष है वह आज निश्चित रूप से भगवान शनि देव के मंदिर में माथा टेकें। उन्हें कई तरह से लाभ होंगे।

राजकिशोर नगर में भी विशेष पूजा—अर्चना

मोपका चिल्हाटी स्थित शनिदेव मंदिर में तो आज विशेष पूजा-अर्चना की जा रही है। तेल से अभिषेक किया जा रहा है और विधिवत पूजा अर्चना के बाद मंगल आरती की जाएगी। इसके साथ ही राजकिशोर नगर स्थित शनि मंदिर में भी भक्त पहुंच रहे हैं।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close