बिलासपुर । गौ माता की सेवा से ही भगवान श्रीकृष्ण की प्राप्ति होगी। उक्त बातें जूनापारा झाफल लोरमी के राजपूत निवास में श्रीमद्भागवत कथा व्यासपीठ से आकृति तिवारी ने कही। उन्होंने भगवान श्रीकृष्ण और उनके मित्र सुदामा चरित्र की कथा सुनाई।

उन्होंने कहा कि सुदामा संसार में सबसे अनोखे भक्त रहे हैं। वे जीवन में जितने गरीब नजर आए, उतने वे मन से धनवान थे। उन्होंने अपने सुख व दुखों को भगवान की इच्छा पर सौंप दिया था। श्रीकृष्ण और सुदामा के मिलन का प्रसंग सुनकर श्रद्धालु भावविभोर हो गए। उन्होंने कहा कि जब सुदामा भगवान श्रीकृष्ण ने मिलने आए तो उन्होंने सुदामा के फटे कपड़े नहीं देखे, बल्कि मित्र की भावनाओं को देखा। मनुष्य को अपने कर्म नहीं भूलना चाहिए। अगर सच्चा मित्र है तो श्रीकृष्ण और सुदामा की तरह होना चाहिए। जीवन में मनुष्य को श्रीकृष्ण की तरह अपनी मित्रता निभानी चाहिए। कथा के साथ कथा व्यास ने कहा यदि हम भगवान श्री कृष्ण को पाना चाहते हैं तो हमें सर्वप्रथम गौ माता की सेवा करना होगा और जब हम गौ माता की सेवा करेंगे तो भी भगवान श्रीकृष्ण की प्राप्ति होगी क्योंकि भगवान श्रीकृष्ण ने भी गौ माता की रक्षा के लिए जन्म लिया और गौ माता की सेवा की है। भगवान श्रीकृष्ण के प्रिय गौ माता है। प्रत्येक हिंदू को गौ माता की सेवा पालन करना चाहिए। कथा श्रवण के बाद महिलाओं ने भजन कीर्तन किए। कथा सुनने आए श्रद्धालुओं ने भक्ति रस में डूबे रहे। पर कथा व्यास सुश्री आकृति तिवारी ने विधि - विधान से हवन कराया। इसके बाद श्रद्धालुओं को प्रसाद वितरण किया।

जैन संगठना द्वारा सात दिवसीय मेडिकल कैंप 23 से

मुंगेली। भारतीय जैन संगठना पुरूष एवं महिला शाखा द्वारा सात दिवसीय मेडिकल कैंप का आयोजन 23 से 29 मई तक कंवरलाल बैद ओसवाल भवन मुंगेली में किया गया है। इसमें एक्यूप्रेशर, फिजियोथेरेपी, नेचुरोपैथी रिसर्च व ट्रीटमेंट किया जाएगा। प्रतिदिन सुबह नौ बजे से 12 व द्वितीय पाली में तीन से सात बजे तक डा. आरआर पवार और डा. एआर चौधरी द्वारा जांच व उपचार किया जाएगा। कैंप में ब्लड प्रेशर,कमर दर्द,हाथों एवं पैरों का सुन्न् रहने,शुगर,सायटिका दर्द,जोड़ों का दर्द,थाइराइड, सिर दर्द,लकवा,नींद नहीं आना,गैस,कब्ज,घुटना दर्द,सर्वाइकल दर्द, मोटापा का इलाज किया जाएगा। इसके लिए पंजीयन गुलशन लेडीज़ कार्नर,सुनील चोपड़ा, जैन कंप्यूटर, कोटड़िया ब्रदर्स, धीरज जैन,विनय लूनिया, गिरीश शुक्ला से संपर्क कर सकते हैं।

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close