बिलासपुर। Bilaspur News: इंटरनेट मीडिया इंस्टाग्राम में किशोरी से दोस्ती कर युवक ने उसे प्रेमजाल में फंसा लिया। फिर उससे शादी करने का झांसा देकर दुष्कर्म करते रहा। किशोरी के गर्भवती होने पर आरोपित ने उसका साथ छोड़ दिया। इस मामले में गिरफ्तार आरोपित की जमानत अर्जी को कोर्ट ने खारिज कर दिया है। चकरभाठा थाना क्षेत्र के परसदा निवासी जितेश गिडवानी (19) ने बीते साल 2020 में इंटरनेट मीडिया इंस्टाग्राम के जरिए किशोरी से दोस्ती की। दोनों आपस में बातचीत करने लगे।

किशोरी सिविल लाइन थाना क्षेत्र में रहती है। बातचीत के दौरान ही आरोपित ने उससे मिलने पहुंच गया और उसे घुमाने भी ले गया। इस दौरान प्यार का इजहार करते हुए उससे शादी करने का झांसा दिया और जबरिया दुष्कर्म किया। इसके बाद से आरोपित उसके साथ शारीरिक संबंध बनाते रहा। इस बीच किशोरी सात माह की गर्भवती हो गई। तब उसने युवक पर शादी करने के लिए दबाव बनाया। इस पर आरोपित युवक ने शादी करने से इन्कार कर दिया। साथ ही उसे गर्भपात कराने की बात कहने लगा।

किशोरी के मना करने पर युवक ने उससे बातचीत बंद कर दिया। उसकी हरकतों से परेशान होकर किशोरी ने इस मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई। जिस पर पुलिस ने अपराध दर्ज कर आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। पुलिस ने जांच के बाद कोर्ट में चालान पेश किया। इस बीच विचारण शुरू होने के पहले आरोपित की तरफ से स्वजनों ने जमानत अर्जी प्रस्तुत की। इस प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए कोर्ट ने आरोपित की जमानत अर्जी खारिज कर दी है।

Posted By: sandeep.yadav

NaiDunia Local
NaiDunia Local